होम /न्यूज /हरियाणा /सोनीपत में एक और शराब घोटाला,अफसरों ने सरकार को लगाया 14 करोड़ का चूना

सोनीपत में एक और शराब घोटाला,अफसरों ने सरकार को लगाया 14 करोड़ का चूना

हरियाणा के सोनीपत में शराब से जुड़ा बड़ा घोटाला हुआ है (सांकेतिक चित्र)

हरियाणा के सोनीपत में शराब से जुड़ा बड़ा घोटाला हुआ है (सांकेतिक चित्र)

Sonipat Liquor Scam: हरियाणा के सोनीपत में हुए इस शराब घोटाले के बाद मामले की जांच शुरू कर दी गई है. दरअसल ठेकेदारों से ...अधिक पढ़ें

सोनीपत. हरियाणा के सोनीपत में एक और शराब घोटाला सामने आया है, जहां ठेकेदारों से मिलीभगत करके आबकारी विभाग के अधिकारियों ने 14 करोड़ के शराब का घोटाला कर दिया. बिना राजस्व (एडिशनल एक्साइज ड्यूटी) जमा कराए मुरथल के एल-13 के ठेकेदार को कोटे से पांच लाख पेटी ज्यादा शराब उठवा दी. मामला सामने आने पर उसका लाइसेंस सस्पेंड करने के साथ डीईटीसी (उप जिला आबकारी एवं कराधान आयुक्त), एडीईटीसी और आबकारी निरीक्षक को सस्पेंड कर दिया गया है, साथ ही एक कमेटी इस पूरे मामले की जांच भी कर रही है.

पूरे मामले के बाद एल-13 को सील कर दिया गया है और मामले में अधिकारी गहनता से जांच कर रहे हैं. दरअसल सोनीपत के मुरथल में एक शराब ठेकेदार के नाम से एल-13 (देशी शराब) का ठेका दिया दिया गया था. ठेकेदार ने अपने निर्धारित लाइसेंस से ज्यादा शराब उठाना शुरू कर दिया. वह आबकारी विभाग के अधिकारियों से मिलकर एक्सेस परमिट जारी कराता रहा और पांच लाख पेटी ज्यादा शराब उठाकर बेच डाला. नियमत: परमिट जारी होने के समय ही एडिशनल एक्साइज ड्यूटी जमा करानी होती है, लेकिन एक्सेस परमिट वाली शराब की एडिशनल ड्यूटी विभाग में जमा नहीं कराई गई. इसकी शिकायत मुख्यालय पहुंच गई.

मुख्यालय स्तर से प्रारंभिक जांच में 14 करोड़ के एडिशनल एक्साइज ड्यूटी का घपला सामने आया है. इसके चलते डीईटीसी नरेश कुमार, एडीईटीसी कश्मीर सिंह कांबोज और आबकारी निरीक्षक रामपाल सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है, साथ ही ठेकेदार पर एक्साइज ड्यूटी के 14 करोड़ और 14 करोड़ रुपये जुर्माना भी लगाते हुए फिलहाल उसका लाइसेंस सस्पेंड कर दिया गया है साथ ही मुरथल के एल-13 को सील कर दिया गया है. पूरे मामले में गहनता से जांच की जा रही है और 9 करोड़ से ज्यादा पैसे रिकवर किए जा चुके हैं.

Tags: Haryana news, Sonipat news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें