होम /न्यूज /हरियाणा /हरियाणा पेपर लीक केस: मास्टरमाइंड दिल्ली पुलिस का कांस्टेबल गिरफ्तार, जानें क्या है पूरा मामला

हरियाणा पेपर लीक केस: मास्टरमाइंड दिल्ली पुलिस का कांस्टेबल गिरफ्तार, जानें क्या है पूरा मामला

हरियाणा पेपर लीक मामले में STF ने मामले के मास्टरमाइंड को सोनीपत से गिरफ्तार कर लिया है.

हरियाणा पेपर लीक मामले में STF ने मामले के मास्टरमाइंड को सोनीपत से गिरफ्तार कर लिया है.

Haryana Paper Leak Case: हरियाणा पुलिस ने मास्टरमाइंड आरोपी दिल्ली पुलिस में कॉन्स्टेबल रोबिन पर 1 लाख रुपये का इनाम भी ...अधिक पढ़ें

सोनीपत. हरियाणा के बहुचर्चित पेपर लीक (Haryana Paper Leak Case) मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) का 1 लाख का ईनामी मास्टरमाइंड आरोपी सिपाही (Accused Constable) को सोनीपत से गिरफ्तार कर लिया है. सिपाही पर आरोप है कि वह 1 हज़ार प्रतिभागियों को फर्जी तरीके से नौकरी दिलवा चुका है. सोनीपत निवासी आरोपी सरगना रोबिन को एसटीएफ ने गिरफ्तार (STF Arrest) किया है.

जानकारी के मुताबिक, हरियाणा के बहुचर्चित पेपर लीक मामले में एसटीएफ लगातार कार्यवाही कर रही है. बुधवार को एसटीएफ ने दिल्ली के पहलादपुर इलाके से दिल्ली पुलिस के सिपाही रोबिन को गिरफ्तार किया है. रोबिन ही हरियाणा के बहुचर्चित पेपर लीक मामले का मास्टर माइंड था. अब तक वह लगभग 1000 प्रतिभागियों को फर्जी तरीके से नौकरी लगवा चुका है. आज सोनीपत STF ने कोर्ट में पेश किया है.

STF कर चुकी है 20 लोगों की गिरफ्तारी 

आजकल हरियाणा, दिल्ली एनसीआर व पूरे देश में आयोजित होने वाली सरकारी नौकरियों और बड़े-बड़े संस्थानों में एडमिशन लेने के लिए आयोजित होने वाली प्रतियोगिताओं को ऑनलाइन तरीके से लिया जा रहा है, लेकिन इन प्रतियोगिताओं को फर्जी तरीके से पास कराने के लिए मोटी रकम भी प्रतिभागियों द्वारा दी जा रही है. पिछले दिनों हरियाणा पुलिस का पेपर लीक हुआ तो जांच एसटीएफ को सौंपी गई. STF ने इस पूरे मामले में गहनता से जांच करते हुए करीब 20 लोगों को सलाखों के पीछे पहुंचाया है.

फर्जी तरीके से पुलिस की परीक्षा का पेपर कराते थे

आरोपी फर्जी तरीके से पुलिस भर्ती का पेपर कराकर पास करवाते थे. इसी कड़ी में हरियाणा की सोनीपत STF ने रोबिन निवासी गांव शामडी को गिरफ्तार किया है. आपको बता दें कि रोबिन दिल्ली पुलिस में बतौर सिपाही के पद पर तैनात है. यह भी 2009 में फर्जी तरीके से ही दिल्ली पुलिस में भर्ती हुआ था, इसके बाद 2012-13 में इसने पूरे देश भर में अपने इस गोरखधंधे को फैलाया और अभी तक 1 हज़ार के लगभग युवाओं को इसी तरीके से वह नौकरी लगवा चुका है.

सोनीपत के गांव से हुई गिरफ्तारी: STF

एसटीएफ DSP महेश सिंह ने बताया कि हमारी टीम ने दिल्ली पुलिस में सिपाही के पद पर तैनात रोबिन निवासी गांव शामडी सोनीपत को गिरफ्तार किया है. रोबिन ने फर्जी तरीके से सैकड़ों प्रतिभागियों को नौकरी दिलवाने में मदद की है. यह पूरे उत्तर भारत के कई राज्यों में आयोजित होने वाली परीक्षाओं की लैब का संचालक है. वहीं पर फर्जी तरीके से सॉल्वर की मदद से प्रतिभागियों के पेपर सॉल्व करवाता था.

2-10 लाख रुपये था परीक्षा पास कराने का रेट

डीएसपी ने जानकारी देते हुए बताया कि रोबिन कोचिंग सेंटर पर अपने गुर्गे छोड़ता था. वहीं से परीक्षार्थियों को लालच देता था कि उनके पेपर में वह पास करवा देंगे. जिसकी एवज में 2 लाख से 10 लाख रुपए लगेंगे, वहीं आगे खुलासा करते हुए बताया गया कि रोबिन सोनीपत जिले में ही 5 स्कूल और कॉलेजों की कंप्यूटर है, वो को किराए पर लेकर इस गोरखधंधे को चलाता था जबकि कई प्रदेशों में लगभग 200 के आसपास इसने लेब करिए पर ले रखी है.

खुद भी 2009 में फर्जीवाड़ा करके ही दिल्ली पुलिस में इसमें नौकरी हासिल की थी. 2012-13 में इसने इस गैंग की कमान संभाली और अभी तक सैकड़ों युवाओं को फर्जी तरीके से नौकरी दिलवाने में मदद की उन्होंने बताया कि आज रोबिन को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा और इससे गहनता से पूछताछ की जाएगी.

Tags: Haryana Government, Haryana news, Haryana police

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें