• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • हरियाणा: NH-44 की एक लेन खुलवाने के लिए होने वाली बैठक का बहिष्कार करेंगे किसान नेता

हरियाणा: NH-44 की एक लेन खुलवाने के लिए होने वाली बैठक का बहिष्कार करेंगे किसान नेता

हरियाणा: नेशनल हाइवे 44 की एक लेन खुलवाने के लिए होने वाली मीटिंग में किसान नेता नहीं जाएंगे.

हरियाणा: नेशनल हाइवे 44 की एक लेन खुलवाने के लिए होने वाली मीटिंग में किसान नेता नहीं जाएंगे.

Farmer Protest News: सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार को नेशनल हाइवे 44 का एक तरफ का रास्ता खुलवाने के आदेश जारी किया था. इस लेकर हरियाणा सरकार और किसान नेताओं के बीच रविवार को एक बैठक होनी थी, जिसमें किसान नेताओं ने जाने से इंकार कर दिया है.

  • Share this:

सोनीपत. तीन कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन (Farmer Protest) लगातार पिछले साढे 9 महीने से जारी है. एक याचिकाकर्ता मोनिका अग्रवाल ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दायर कर नेशनल हाइवे-44 (NH-44) का एक तरफ का रास्ता खुलवाने की मांग की थी. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार को नेशनल हाइवे 44 का एक तरफ का रास्ता खुलवाने के आदेश जारी किया था. इस लेकर हरियाणा सरकार ने किसान नेताओं के साथ कल एक बैठक करनी थी, जिसमें किसान नेताओं ने जाने से इंकार कर दिया है.

केंद्र सरकार ने पारित सिंह कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन लगातार जारी है. साढ़े 9 महीने से किसान अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन 12 दौर की बातचीत के बाद भी सरकार के साथ किसानों की बातचीत बेनतीजा रही. किसानों को सरकार में गतिरोध अब भी जारी है. इसी बीच सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार ने जारी किया कि NH 44 का एक तरफ का रास्ता बताएं. इसके बाद हरियाणा सरकार ने एक 5 सदस्य कोर कमेटी अधिकारियों के साथ मिलकर किसानों से बातचीत करने के लिए बनाई, और उस कोर कमेटी को कल से किसान नेताओं के साथ करनी थी, लेकिन उससे पहले ही आज पंजाब की 32 जत्थेबंदियो ने अहम बैठक की. जिसमें फैसला लिया गया कि कल होने वाली बैठक में शामिल नहीं होंगे.

किसान नेता मंजीत सिंह राय व अन्य किसान नेताओं ने कहा कि आज हमारी कई घंटे बैठक चली, जिसमें कल होने वाली बैठक का मुद्दा अहम रहा. इस बैठक में सभी किसान नेताओं ने फैसला लिया कि कोई भी किसान नेता का सरकार के साथ होने वाली बैठक में नहीं जाएगा. क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने जो आदेश जारी किया है. वह हरियाणा सरकार को जारी किया है कि एक तरफ का रास्ता खुलवाएं. जबकि हमने तो एक तरफ खोल रखा है. जगजीत दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस ने आगे बड़े-बड़े बैरिकेडिंग करके रास्ता रोक रखा है. जब यहां से ऑक्सीजन की सप्लाई हो रही थी तो हमने उस समय एक तरफ का रास्ता खोल दिया था. वहीं किसान नेताओं में कैप्टन अमरिंदर के इस्तीफा देने के बाद हम इस पर चर्चा करेंगे. इसके बाद चर्चा करने के बाद ही कोई बयान जारी करेंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज