लाइव टीवी

बेटे ने दिखाई बहादुरी, बदमाशों का पीछा कर उद्योगपति पिता को छुड़ाया

Nitin Antil | News18 Haryana
Updated: December 10, 2019, 7:20 AM IST
बेटे ने दिखाई बहादुरी, बदमाशों का पीछा कर उद्योगपति पिता को छुड़ाया
अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुटे उद्योगपति परमजीत

पिता का अपहरण होता देख बेटे ने किसी तरह हिम्मत दिखाई और बदमाशों का पीछा किया. छतेहरा रेलवे पुलिस के पास बदमाशों की कार को ओवरटेक करते हुए अपने उद्योगपति पिता को छुड़ा लिया.

  • Share this:
सोनीपत. हरियाणा (Haryana) में सोनीपत (Sonipat) जिले के राई औद्योगिक क्षेत्र में फैक्ट्री के बाहर खड़े उद्योगपति (industrialist) का बदमाशों (crooks) ने पिस्तौल (pistol) के बल पर अपहरण (Kidnapping) कर लिया. इस दौरान पिता का अपहरण होता देख बेटे ने किसी तरह हिम्मत दिखाई और बदमाशों का पीछा किया. पीछा करते हुए बेटे ने छतेहरा रेलवे पुलिस के पास बदमाशों की कार को ओवरटेक कर रुकवा लिया. वहीं पकड़े जाने के डर से बदमाशों ने उद्योगपति को अपनी गाड़ी से वहीं पर उतार दिया. साथ ही पिस्तौल के बट से उद्योगपति के बेटे की कार के शीशे तोड़ दिए, जिस कारण एक बदमाश की पिस्तौल कार के अंदर गिर गई.

पुलिस ने शुरू की छानबीन

बहरहाल, घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची राई थाना पुलिस ने आसपास के क्षेत्र में बदमाशों की तलाश शुरू की, लेकिन उनका कोई सुराग नहीं मिला. फिलहाल, राई थाना पुलिस ने उद्योगपति के बयान पर अपहरण के प्रयास का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है.

पूरा मामला

दिल्ली-9 की निरंकारी कॉलोनी निवासी परमजीत एसएस इंजीनियरिंग वर्कर्स नाम से सरिया बनाने की फैक्ट्री चलाते हैं. परमजीत ने पुलिस को बताया कि वे सोमवार को दिन के करीब 11 बजे फैक्ट्री के बाहर खड़े थे. इसी दौरान सफेद रंग की एक आइ 20 कार उनके पास आकर रुकी. कार से उतरे दो युवकों ने पिस्तौल दिखाकर उन्हें कार में बैठने को कहा. डर के चलते वे कार में बैठ गए.

बेटे की बहादुरी से बची पिता का जान

इस दौरान मौके पर मौजूद उद्योगपति परमजीत के बेटे समनीत ने ये सब देख लिया. इसके बाद वह अपनी क्रेटा गाड़ी में बदमाशों की कार का पीछा करने लगा. बदमाश कार लेकर जठेड़ी की ओर चल पड़े, वहां से बरोटा चौक के पास पहुंचे. इसके बाद बदमाशों ने उद्योगपति का फोन निकाल कर बाहर नाले में फेंक दिया. इसी दौरान समनीत बदमाशों की कार का पीछा करते हुए छतेहरा रेलवे पुल के पास बदमाशों की गाड़ी को ओवरटेक कर लिया.बदमाशों ने कोई चोट नहीं पहुंचाई और ना ही फिरौती मांगी

पकड़े जाने के डर से बदमाशों ने परमजीत को अपनी गाड़ी से उतार दिया. परमजीत भाग कर अपने बेटे की गाड़ी में बैठ गया. उद्योगपति ने पुलिस को बताया कि बदमाश हरियाणवी भाषा में बात कर रहे थे. उद्योगपति ने पुलिस को बताया कि न तो उसकी किसी से कोई रंजिश है और ना ही उसके साथ कभी कोई रंगदारी मांगे जाने जैसी बात हुई है. अपहरण के बाद बदमाशों ने उसे चोट पहुंचाने की भी कोशिश नहीं की और ना ही रुपए मांगने की कोई बात की. फिलहाल, पुलिस पूरे मामले में जांच में जुट गई है. पुलिस ने जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी का दावा किया है.

ये भी पढ़ें:- रेवाड़ी: युवती की गोली मारकर हत्‍या, रेप की भी आशंका

ये भी पढ़ें:- गैंगस्टर अशोक राठी मर्डर केस: पुलिस ने 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सोनीपत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2019, 7:20 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर