लाइव टीवी

गजब! हरियाणा के इस युवा किसान ने बिना मिट्टी के छत पर उगाई सेहतमंद सब्जियां
Sonipat News in Hindi

Nitin Antil | News18 Haryana
Updated: January 13, 2020, 4:40 PM IST
गजब! हरियाणा के इस युवा किसान ने बिना मिट्टी के छत पर उगाई सेहतमंद सब्जियां
गोहाना के रहने वाले एक युवा किसान सुनील ने हाइड्रोपोनिक खेती कर किसानों को नई राह दिखाई है.

गोहाना के युवा किसान सुनील कुमार (Sunil Kumar) का कहना है कि इस तरह की खेती करने से पैदा होने वाली सब्जियों (Healthy vegetables) का सेवन करने वाले को कोई बीमारी नहीं होती है. इस खेती में मिट्टी की जरूरत नहीं होती है.

  • Share this:
सोनीपत. हरियाणा में सोनीपत जिले के गोहाना के रहने वाले एक युवा किसान ने हाइड्रोपोनिक खेती (Hydroponics Farming) कर किसानों को नई राह दिखाई है. युवा किसान सुनील कुमार (Farmer Sunil Kumar) ने यूट्यूब के माध्यम से हाइड्रोपोनिक खेती सीखी और अपने घर की छत पर ही इसकी शुरुआत कर दी. सुनील कुमार का कहना है कि इस तरह की खेती करने से पैदा होने वाली सब्जियों का सेवन करने वाले को कोई बीमारी भी नहीं होती है. आज के समय में कैंसर जैसी भयानक बीमारी दूषित सब्जियों के खाने के चलते हो रही है. इस खेती में मिट्टी की जरूरत नहीं (Soilless Farming) होती है और पानी भी बहुत कम मात्रा में उपयोग में लाई जाती है. फिलहाल सुनील कुमार का कहना है कि उनका मकसद सिर्फ किसानों को नई तकनीक सिखाना है, और उसकी शुरुआत वह कर चुके हैं.

युवा किसान सुनील दो साल से कर रहे हैं खेती

यह तस्वीरें सोनीपत के गोहाना की हैं, जहां पर आप देख सकते हैं कि चारों तरफ जमीन से कुछ ऊंचाई पर पाइपों में सब्जियां उगाई गई हैं. आप देख सकते हैं कि फूल गोभी, पालक जैसी सब्जियां उगाई गई हैं. यह जमीन पर नहीं बल्कि गोहाना के रहने वाले युवा किसान सुनील कुमार ने अपने घर की छत पर उगाई हैं. सुनील कुमार ने बताया कि उन्होंने 2 साल पहले इंटरनेट के माध्यम से हाइड्रोपोनिक खेती के बारे में जानकारी पाई. उन्होंने कहा कि अपने घर की छत पर ही हाइड्रोपोनिक खेती की शुरुआत कर दी है. उन्होंने कहा कि इस खेती के लिए ज्यादा जमीन की जरूरत नहीं है और आज के समय में बहुत ज्यादा दवाई के कारण सब्जियों में कैंसर जैसी बीमारियां हो गई हैं, लेकिन इस खेती से सब्जियों में कोई बीमारी नहीं होती और सभी के सभी सब्जियां ऑर्गेनिक होती हैं.

जमीन से कुछ ऊंचाई पर होती है यह खेती 

युवा किसान सुनील कुमार ने बताया कि इस तरह की खेती करने से किसान को बहुत ज्यादा फायदा हो सकता है. उनका मानना है कि हमारी जमीन में बीमारी बहुत ज्यादा घर चुकी है और यह खेती जमीन से कुछ ऊंचाई पर होती है.



इसके लिए मिट्टी की आवश्यकता नहीं होती है. इस विधि के जरिये खेती में पानी भी महज 10 परसेंट ही इस्तेमाल होता है. इससे पानी की बचत भी की जाती है. सुनील कुमार सब्जियों के अलावा यहां पर फूल भी उगा रहे हैं और आसपास के एरिया में सुनील कुमार की खेती चर्चा का विषय बनी हुई है. वहीं रोजाना आसपास के किसान आकर यहां इस तकनीक के बारे में सीख रहे हैं.यह भी पढ़ें: 

खाप पंचायत का फरमान- शादी में नहीं बजेगा DJ, मृत्यु भोज और हर्ष फायरिंग पर बैन

 

सरकारी अधिकारी नशीले पदार्थों को बेचने वालों को दे रहे संरक्षण: अभय चौटाला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सोनीपत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 2:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर