UPSC Result: हरियाणा के लाल हैं यूपीएससी टॉपर प्रदीप सिंह, किसानों के लिए करना चाहते हैं काम

प्रदीप अपनी सफलता का श्रेय पिता की मेहनत और विश्वास को देते हैं.
प्रदीप अपनी सफलता का श्रेय पिता की मेहनत और विश्वास को देते हैं.

UPSC Civil Services Exam Result: हरियाणा के सोनीपत के रहने वाले किसान के बेटे प्रदीप यूपीएससी परीक्षा के टॉपर. इससे पहले 2018 में हुई यूपीएससी की परीक्षा में उन्होंने 260वीं रैंक हासिल की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 6:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने आज सिविल सेवा परीक्षा-2019 का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया है. इस परीक्षा में कुल 829 उम्मीदवारों का चयन किया गया है. UPSC के इस बार के टॉपर हैं हरियाणा (Haryana) के सोनीपत (Sonipat) जिले के रहने वाले प्रदीप सिंह. प्रदीप का ये चौथा प्रयास था. इससे पहले उन्होंने 2018 की सिविल सेवा परीक्षा में 260वीं रैंक हासिल की थी. प्रदीप सिंह ने जब पहली बार यूपीएससी परीक्षा पास की थी तो उस समय उनकी उम्र मात्र 22 साल थी.

किसान के बेटे हैं प्रदीप
टॉपर प्रदीप सोनीपत तेवड़ी गांव के रहने वाले एक साधारण किसान के बेटे हैं. प्रदीप अपनी सफलता का श्रेय पिता की मेहनत और विश्वास को बताते हैं. प्रदीप बताते हैं ये उनका ये चौथा प्रयास था, इससे पहले 2018 के यूपीएससी एग्जाम में उन्होंने 260 रैंक हासिल की थी. प्रदीप से अधिकारी के तौर पर उनकी प्राथमिकता के बारे में पूछे जाने पर कहा कि एक अधिकारी के तौर पर किसान और गरीबों के लिए काम करना उनकी प्राथमिकता है.

प्रदीप सिंह फिलहाल इंडियन रेवेन्यू सर्विस के अंतर्गत भारत सरकार के अधीन सेवारत हैं. प्रदीप का कहना है कि वह एक साधारण परिवार से हैं और उनके पिता किसान हैं. प्रदीप की इच्छा है कि वह अपना गृह राज्य हरियाणा का कैडर लेना चाहते हैं. फिलहाल सोनीपत के तेवड़ी गांव और प्रदीप के घर पर खुशी और जश्न का माहौल है.
पहली पोस्टिंग दिल्ली में मिली थी


प्रदीप को इनकम टैक्स इंस्पेक्टर दिल्ली में पहली पॉस्टिंग मिली थी. प्रदीप के पिता ने बताया कि वे मूल रूप से तेवडी के रहने वाले हैं. गांव से साल 2000 में बच्चे पढ़ाने के लिए सोनीपत आ गए थे और प्रदीप बचपन से पढ़ने में अच्छा था.

परिवार और पिता से मिला मोटिवेशन
प्रदीप का कहना है कि मोटिवेशन उन्हें अपने परिवार और पिता से ही मिला है. माता-पिता के संघर्ष से बड़ा क्या मोटिवेशन हो सकता है. उन्‍होंने कहा कि हर सुख दुख में उनका परिवार साथ खड़ा रहा और पिता ने उन्हें हमेशा आगे बढ़ने की प्रेरणा दी. पिता ने उनसे हमेशा कहा कि आगे बढ़ते रहो सफलता जरूर मिलेगी और इसी सफलता का श्रेय वह अपने पिता को दे रहे हैं.

कुल 829 उम्मीदवारों का चयन
बता दें इस बार कुल 829 उम्मीदवारों का चयन किया गया है. इसमें 304 उम्मीदवार जनरल कैटेगरी से, 78 ईडब्ल्यूएस, 251 ओबीसी, 129 एससी और 67 एसटी कैटेगरी से हैं. आयोग के अनुसार परीक्षार्थियों के मार्क्स 15 दिन बाद जारी किए जाएंगे. यूपीएससी ने 182 उम्मीदवारों को रिजर्व लिस्ट में रखा है, इनमें 91 जनरल, 9 ईडब्ल्यूएस, 71 ओबीसी, 8 एससी, 3 एसटी कैटेगरी के हैं. 11 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनका रिजल्ट होल्ड पर रखा गया है.

ये भी पढ़ें- UPSC Result 2019: मीलिए विशाखा यादव से, पहले दो प्रयासों में प्रीमिम्स भी पास नहीं की तीसरे प्रयास में हासिल की छठी रैंक

कोरोना के चलते इंटरव्यू स्थगित हुए थे
यूपीएससी मुख्य परीक्षा में कुल 2304 उम्मीदवार सफल हुए थे. इनके लिए इंटरव्यू की प्रक्रिया 17 फरवरी, 2020 से शुरू हुई थी लेकिन कोरोना लॉकडाउन के चलते मार्च में इंटरव्यू स्थगित कर दिए गए थे. इंटरव्यू 20 जुलाई से 30 जुलाई के बीच आयोजित किए गए.

टॉप 20 टॉपर
1- प्रदीप सिंह
2- जतिन किशोर
3- प्रतिभा वर्मा
4- हिमांशु जैन
5- जयदेव सी एस
6- विशाखा यादव
7- गणेश कुमार भास्कर
8- अभिषेक सराफ
9- रवि जैन
10- संजिता महापात्रा
11- नूपुर गोयल
12- अजय जैन
13- रौनक अग्रवाल
14- अनमोल जैन
15- भोसले नेहा प्रकाश
16- गुंजन सिंह
17- स्वाति शर्मा
18- लविश ओर्डिया
19- श्रेष्ठा अनुपम
20- नेहा बनर्जी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज