लाइव टीवी

VIRAL VIDEO में VIP काफिले के चलते एक बच्ची की मौत की फैली अफवाह, जानिए हकीकत

Nitin Antil | News18 Haryana
Updated: September 21, 2019, 4:45 PM IST
VIRAL VIDEO में VIP काफिले के चलते एक बच्ची की मौत की फैली अफवाह, जानिए हकीकत
वर्षा के बारे में वायरल वीडियो में एंबुलेंस में दम तोड़ने की बात की जा रही है जबकि वह नर्सरी क्लास में पढ़ती है

वायरल वीडियो की पड़ताल की गई तो वायरल वीडियो सोनीपत जिले के बंदे पुर गांव की बच्ची वर्षा के एंबुलेंस में होने का है.

  • Share this:
सोनीपत. सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल (Viral Video) हो रहा है. इस वीडियो में किसी वीआईपी काफिले (VIP Convoy) की वजह से एक एंबुलेंस (Ambulence) को रोकने का मामला दिखाई दे रहा है. एंबुलेंस पर सिविल अस्पताल सोनीपत (Civil Hospital Sonipat) लिखा हुआ है. वायरल वीडियो में यह बताया गया है कि भाजपा सांसद मनोज तिवारी (BJP MP Manoj Tiwari) के लिए यह काफिला रोका गया और एंबुलेंस में मौजूद बच्ची ने दम तोड़ दिया. इस बारे में वायरल वीडियो की पड़ताल की गई तो वायरल वीडियो सोनीपत जिले के बंदे पुर गांव की बच्ची वर्षा के एंबुलेंस में होने का है.

इस बारे में एंबुलेंस के ड्राइवर ओमप्रकाश ने बताया कि यह वीडियो 2 साल पुराना है और किसी विदेशी वीआईपी के काफिले की वजह से एंबुलेंस को रोका गया था. उस एंबुलेंस में 2 साल की बच्ची थी जो कैंसर से पीड़ित थी और उसके नाक व मुंह से खून बह रहा था. लोगों की मदद से रास्ता खुला और वह समय पर बच्ची को हॉस्पिटल ले जा पाए. बच्ची पूरी तरह से सुरक्षित है.

पिता जय भगवान ने बताया कि मेरी बेटी की तबीयत काफी खराब हो गई थी और हम उसे एंबुलेंस में दिल्ली ले जा रहे थे


न्यूज 18 हरियाणा की टीम हकीकत पता करने पहुंची गांव

इस वायरल वीडियो की हकीकत जानने न्यूज 18 हरियाणा की टीम बंदे पुर गांव भी पहुंची. यहां पर जय भगवान नाम के व्यक्ति से मुलाकात की. यह वही जय भगवान नाम के शख्स हैं, जिसकी 2 वर्ष की बेटी वर्षा के एंबुलेंस में होने की बात वायरल वीडियो में की गई थी. हमने वर्षा से भी बात की वह पूरी तरह से ठीक है और फिलहाल नर्सरी क्लास में पढ़ती है.



बच्ची को एंबुलेंस में दिल्ली ले जाया जा रहा था
Loading...

पिता जय भगवान ने बताया कि मेरी बेटी की तबीयत काफी खराब हो गई थी और हम उसे एंबुलेंस में दिल्ली ले जा रहे थे और इसी दौरान पुलिस ने बेरिकैड लगा कर हमें रोक लिया था. उन्हें बताया गया था कि किसी वीआईपी का काफिला आ रहा है, जिसके चलते उन्हें काफी देर तक रोके रखा था, लेकिन बाद में हमें जाने दिया. अगर थोड़ी देर ओर हो जाती तो शायद हमारी बच्ची आज जिंदा नहीं होती.

यह भी पढ़ें:  पौने तीन करोड़ की लॉटरी निकलने का झांसा देकर महिला से 1.06 करोड़ लूटे

हम चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार हैं, चाहो तो कल ही करवा लो: अनिल विज 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सोनीपत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 21, 2019, 4:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...