Home /News /haryana /

आफत की बारिश! सोनीपत की सड़कों पर पानी ही पानी, रेलवे अंडरपास हुआ जलमग्न

आफत की बारिश! सोनीपत की सड़कों पर पानी ही पानी, रेलवे अंडरपास हुआ जलमग्न

सोनीपत में आफत की बारिश

सोनीपत में आफत की बारिश

Water Logging in Sonipat: सोनीपत शहर की कोई भी सड़क ऐसी नहीं है कि जहां पर पानी ना भरा हो. एमएलए निवास स्थान, गीता भवन चौक, बस स्टैंड सभी जगह पर पानी ही पानी है. वहीं गोहाना सोनीपत को जोड़ने वाला रेलवे अंडरपास (Railway Underpass) भी जलमग्न हो गया.

अधिक पढ़ें ...

सोनीपत. हर बार की तरह बारिश से पहले सोनीपत (Sonipat) जिले के सभी अधिकारियों की स्थानीय विधायक और सांसद ने बैठक ली थी. बैठक में कहा गया था कि बारिश से पहले पानी निकासी के सभी व्यवस्थाएं कर ली जाएं. अधिकारियों ने आश्वासन ही नहीं दावे भी किए थे कि इस बार वह पूरी तरह से तैयार हैं और किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं आने दी जाएगी. लेकिन एक तेज बारिश (Heavy Rain) ने ही सभी अधिकारियों के दावों की पोल खोल दी.

सभी के दावे पानी में ही तैरते नजर आए. बारिश के बाद सोनीपत शहर में सभी सड़कों पर चार-चार फुट पानी (Water Logging) भर गया. एमएलए निवास स्थान, गीता भवन चौक, बस स्टैंड सभी जगह पर पानी ही पानी है. वहीं गोहाना सोनीपत को जोड़ने वाला रेलवे अंडरपास (Railway Underpass) भी जलमग्न हो गया.

सोनीपत की सभी सड़कें स्वीमिंग पूल बन चुकी हैं. सभी सड़कों पर चार-चार फुट पानी भरा है. जिसकी वजह से लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है. पानी ज्यादा होने के कारण सड़कों पर चलने वाली गाड़ियों के पहिए भी थम गए हैं. सोनीपत प्रशासन ने दावे किए थे कि इस बार वह बारिश के पानी की निकासी की अच्छी व्यवस्था करेंगे और किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं होने दी जाएगी.

शहर की कोई भी सड़क ऐसी नहीं है कि जहां पर पानी ना भरा हो. शहर के स्थानीय लोगों ने बताया कि शहर में हो रही बरसात के चलते सभी सड़कें जलमग्न है. सभी चौक चौराहों पर पानी भरा हुआ है. लेकिन अधिकारी केवल दफ्तरों में बैठकर ही सीवर समस्या का समाधान करते रहते हैं, जिसके चलते शहर से पानी निकासी का कोई भी समाधान नहीं हो रहा है.

Tags: Haryana news, Haryana weather, Water logging

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर