सोनीपत में महिला ने केरोसिन छिड़क कर लगा ली आग, मौत

मृतका के पिता के बयान पर पुलिस ने ससुर के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी.

Sunil Jindal | News18 Haryana
Updated: May 27, 2019, 12:55 PM IST
सोनीपत में महिला ने केरोसिन छिड़क कर लगा ली आग, मौत
प्रतिकात्मक तस्वीर
Sunil Jindal
Sunil Jindal | News18 Haryana
Updated: May 27, 2019, 12:55 PM IST
गोहाना के बरोदा थाना के अंर्तगत आने वाले गांव बुटाना में अपने बेटे की पत्नी पर ससुर गलत नजर रखता था. हर रोज ससुर बहू को तरह-तरह के ताने देता था, जिनसे तंग आकर बहू ने देर शाम को अपने ऊपर केरोसिन का तेल छिड़क कर आग लगा ली. जिसके बाद आसपास के लोगों द्वारा उससे रोहतक के पीजीआई ले जाया गया. उपचार के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया. मृतका के पिता के बयान पर पुलिस ने ससुर के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी.

गौरतलब है की रोहतक जिले के गांव समचाणा निवासी मंगत राम ने पुलिस में दी शिकायत में बताया कि उसकी बेटी कोमल(26) की शादी लगभग दस साल पहले गांव बुटाना निवासी रवि पुत्र रमेश के साथ हुई थी. रवि फौज में नौकरी करता था. ऐसे में उसकी बेटी कोमल के साथ उसका ससुर रमेश घर पर रहते थे.



पिता ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी कोमल का ससुर रमेश उससे शराब के नशे में अपशब्द कहता था और बार-बार उससे संबंध बनाने के लिए मजबूर करता था. पिता ने आरोप लगाया कि ससुर रमेश उसकी बेटी कोमल को कहता था कि उसका पति रवि तो एक साल में एक या दो बार घर आता आता है ऐसे में वह उससे संबंध बना ले.

मंगतराम के अनुसार उसकी बेटी कोमल ने यह सारी बात उनसे बताई तो तीन से चार बार उससे समझाया गया. लेकिन वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आया. जिसके चलते उसकी बेटी कोमल ने देर श्याम को अपने ऊपर केरोसिन का तेल छिड़क कर आग लगा ली.

घटना का पता पड़ोस के लोगों को लगा तो वह कोमल को रोहतक पीजीआई लेकर पहुंचे. जहां पर चिकित्सक ने कोमल को मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने पिता मंगत राम के बयान पर मृतका कोमल के ससुर रमेश के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी. कोमल अपने पीछे एक सात वर्षीय बेटे को छोड़ गई है.

ये भी पढ़ें-

12 दिन से गायब बच्चे को परिजनों ने खुद तलाशा तो इस हाल में मिला बच्चा 
Loading...

वोटों की गिनती के बाद इसलिए ईवीएम को 45 दिन रखा जाता है अंधेरें में
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...