Home /News /haryana /

कांग्रेस ने क्या इसलिए काट दी रॉबर्ट वाड्रा के करीबी की लोकसभा टिकट, पढ़िए पूरी कहानी!

कांग्रेस ने क्या इसलिए काट दी रॉबर्ट वाड्रा के करीबी की लोकसभा टिकट, पढ़िए पूरी कहानी!

रॉबर्ट वाड्रा के करीबी माने जाने वाले ललित नागर और महेश नागर (file photo)

रॉबर्ट वाड्रा के करीबी माने जाने वाले ललित नागर और महेश नागर (file photo)

रॉबर्ट वाड्रा के जमीन सौदों में शामिल रहे महेश नागर के भाई ललित नागर को दी गई थी फरीदाबाद से टिकट, इसके बाद वाड्रा के बहाने कांग्रेस को घेरने लगी थी बीजेपी

"कांग्रेस का देखो हाल, कांग्रेस के सबसे बड़े दलाल जो इस पार्टी के दामाद कहे जाते हैं, उस दलाल का चहेता एक दलाल जो फरीदाबाद में रहता है उस दलाल के भाई को उन्होंने यहां की लोकसभा के टिकट से नवाजा है. उस दलाल के भाई को इसकी कीमत दी गई है. एक दलाल दूसरे दलाल के भाई को नवाजता है, और कुछ नहीं तो लोकसभा की टिकट ले लो. क्या यही लोकसभा की टिकट का पैमाना रह गया है..."

फरीदाबाद-पलवल की एक रैली में  हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने यह बयान दिया और उसके कुछ ही दिन बाद रॉबर्ट वाड्रा के करीबी महेश नागर के भाई ललित नागर की टिकट कट गई. टिकट कटने से पहले बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने भी कहा, "नागर के भाई ने रॉबर्ट वाड्रा के साथ मिलकर जो जमीनों के घोटाले किए हैं, उसका गिफ्ट उन्हें दिया गया है."

 Robert Vadra, Lok Sabha election 2019, Lok Sabha ticket, Mahesh Nagar, mla Lalit Nagar, Faridabad, Congress, BJP, Haryana, CM Manohar Lal Khattar, Rajasthan, Bikaner, Subhash Barla, Avatar Bhadana, Inld, लोकसभा चुनाव 2019, रॉबर्ट वाड्रा, लोकसभा टिकट, महेश नागर, ललित नागर, फरीदाबाद, कांग्रेस, बीजेपी, हरियाणा, सीएम मनोहर लाल खट्टर, राजस्थान, बीकानेर, सुभाष बराला, अवतार भड़ाना, इनेलो, प्रियंका गांधी, vadra land deal case, वाड्रा जमीन सौदा केस         टिकट मिलने के बाद प्रचार करते ललित नागर (file photo)

दरअसल, सीएम मनोहरलाल ने यह बयान दिया था महेश नागर के भाई ललित नागर के लिए जिन्हें कांग्रेस ने 13 अप्रैल को फरीदाबाद से लोकसभा की टिकट दी थी. ललित नागर हरियाणा की तिगांव विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक हैं. उनके छोटे भाई महेश नागर वो शख्स हैं जिनका नाम रॉबर्ट वाड्रा के जमीन फरीदाबाद-पलवल से लेकर राजस्थान के बीकानेर तक के जमीन सौदों में आता है. इस वजह से उनके घर और दफ्तरों पर दो बार ईडी का छापा भी पड़ चुका है. ऐसे में ललित नागर को टिकट मिलना और कटना दोनों चर्चा का विषय बन गया.

ये भी पढ़े: हरियाणा में नहीं होगा कांग्रेस का गठबंधन, हुड्डा का दावा- अकेले दम पर चुनाव लड़ने में सक्षम

हरियाणा के वरिष्ठ पत्रकार नवीन धमीजा कहते हैं," इस टिकट के साथ ही बीजेपी ने वाड्रा का मामला फिर से उछालना शुरू कर दिया था. कांग्रेस शायद नहीं चाहती थी कि चुनावी मौसम में फिर वाड्रा का जिन्न बाहर निकले. स्थानीय स्तर पर भी कई बड़े कांग्रेस नेता ललित नागर के विरोध में खड़े हो गए क्योंकि ललित उनके मुकाबले नए हैं. उन्होंने कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से शिकायत की. साथ ही फरीदाबाद के पूर्व सांसद अवतार भड़ाना भी अपने आकाओं के यहां पहुंचे कि वे तो बीजेपी और विधायकी छोड़कर कांग्रेस में इसलिए आए थे कि उन्हें यहां से टिकट मिलेगी. ऐसे में ललित नागर की टिकट कट गई."

 Robert Vadra, Lok Sabha election 2019, Lok Sabha ticket, Mahesh Nagar, mla Lalit Nagar, Faridabad, Congress, BJP, Haryana, CM Manohar Lal Khattar, Rajasthan, Bikaner, Subhash Barla, Avatar Bhadana, Inld, लोकसभा चुनाव 2019, रॉबर्ट वाड्रा, लोकसभा टिकट, महेश नागर, ललित नागर, फरीदाबाद, कांग्रेस, बीजेपी, हरियाणा, सीएम मनोहर लाल खट्टर, राजस्थान, बीकानेर, सुभाष बराला, अवतार भड़ाना, इनेलो, प्रियंका गांधी, vadra land deal case, वाड्रा जमीन सौदा केस        राबर्ट वाड्रा (file photo)

धमीजा कहते हैं कि ललित नागर को निश्चित तौर पर वाड्रा का करीबी होने की वजह से टिकट मिली थी. लेकिन जब इस टिकट के बहाने वाड्रा को लेकर बीजेपी वाले कांग्रेस को घेरने लगे तो इस पर विचार हुआ होगा. हालांकि कांग्रेस में वाड्रा की चलती तो शायद ललित नागर की टिकट नहीं कटती.

इस बारे में हमने ललित नागर से बात की तो उन्होंने कहा कि हमारी वाड्रा जी से नजदीकी है लेकिन हमने पार्टी के लिए लंबे समय से काम किया है. जबकि अवतार भड़ाना कांग्रेस छोड़कर इनेलो में गए, फिर बीजेपी में रहे और अब टिकट लेने के लिए फिर कांग्रेस में आ गए. हमने 12 प्रचार कार्यालय खोल दिए थे, बैनर-पोस्टर सब छप गए थे. काफी गांवों को हमने प्रचार में कवर कर लिया था, फिर भी हमारी टिकट काट दी गई. हमारे विरोधी हम पर हावी हो गए. आलाकमान ने क्यों ऐसा किया मुझे नहीं मालूम लेकिन मैं हमेशा कांग्रेस के साथ हूं.

 Robert Vadra, Lok Sabha election 2019, Lok Sabha ticket, Mahesh Nagar, mla Lalit Nagar, Faridabad, Congress, BJP, Haryana, CM Manohar Lal Khattar, Rajasthan, Bikaner, Subhash Barla, Avatar Bhadana, Inld, लोकसभा चुनाव 2019, रॉबर्ट वाड्रा, लोकसभा टिकट, महेश नागर, ललित नागर, फरीदाबाद, कांग्रेस, बीजेपी, हरियाणा, सीएम मनोहर लाल खट्टर, राजस्थान, बीकानेर, सुभाष बराला, अवतार भड़ाना, इनेलो, प्रियंका गांधी, vadra land deal case, वाड्रा जमीन सौदा केस          गुलाम नबी आजाद के साथ ललित नागर (file photo)

इस बारे में हमने जब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर से बात की तो उन्होंने कहा कि अवतार भड़ाना और ललित नागर में मेल मिलाप हो गया है. दोनों पार्टी के लिए काम कर रहे हैं. किसी दिक्कत की वजह से टिकट नहीं कटी. टिकट देना भी पार्टी का फैसला था और काटना भी. पार्टी ने अंत में अवतार भड़ाना को लड़ाने का फैसला किया. पूरी पार्टी उनके साथ है.

ये भी पढ़ें:

लोकसभा चुनाव 2019: चौथे चरण की इन 10 सीटों पर लगी हैं देश भर की नजरें, दिलचस्प है लड़ाई!

बीजेपी में रहकर उसी की नीतियों के खिलाफ आवाज उठाते रहे उदित राज!

 

यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा के नतीजे सबसे पहले देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Tags: BJP, Congress, Haryana politics, Lok Sabha Election 2019, Manohar Lal Khattar, Politics, Robert vadra, Subhash barala

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर