Assembly Banner 2021

सिंघु बॉर्डर पर धरना दे रहे किसान ने ट्रक के अंदर बनाया शानदार घर, Video देख आप भी कह उठेंगे वाह!

सिंघू बॉर्डर में किसान के द्वारा ट्रक के अंदर बनाया गया शानदार घऱ का नजारा.

सिंघू बॉर्डर में किसान के द्वारा ट्रक के अंदर बनाया गया शानदार घऱ का नजारा.

सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर नये कृषि कानूनों के खिलाफ धरना दे रहे एक किसान (Farmer) ने ट्रक (Truck) के अंदर शानदार घर बनाया है. यहां पर किसान ने एलईडी टीवी, टॉयलट, पंखा, सोफा सेट और डबल बेड (Double Bed) भी लगाया है.

  • Share this:
सोनीपत. सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर मोदी सरकार के तीन नये कृषि कानूनों (Agricultural Laws) के विरोध में किसानों (Farmer) का धरना लगातार जारी है. कड़कड़ती ठंड में किसानों ने ट्रक और ट्रॉलियों में अपना आशियाना बनाया था. वहीं इस आंदोलन में एक किसान सबसे हटकर है, जिसने ट्रक के अंदर शानदार घर बना दिया है. जिसमें आधुनिक टॉयलेट, वाशबेसिन, डबल बेड जैसी अत्याधुनिक सुविधाएं हैं.

ट्रक के अंदर अपना घर बनाने वाले आंदोलनकारी का कहना है कि उनको पता था कि यह आंदोलन लंबा चलने वाला है, जिसको देखते हुए किसान ने ट्रक के अंदर एक छोटा और शानदार घर बना दिया. वहीं ट्रक के नीचे भी किसान ने एक होटलनुमा झोपड़ी बनाई है, जिसमें बेड और पंखा लगाया गया है. साथ ही झोपड़ी में ठंड़े पानी के लिए फ्रिज की व्यवस्था भी की गई है.

Youtube Video




सोनीपत के सिंघु बॉर्डर पर लगातार किसानों का आंदोलन जारी है और सर्दी का मौसम जाने के बाद जैसे-जैसे गर्मी आ रही है. किसान गर्मियों की तैयारियों में जुटे गए हैं. वहीं पंजाब से आए एक किसान ने सिंघु बॉर्डर पर खड़े ट्रक में ही अपना घर बना लिया है. ट्रक में घर में इस्तेमाल होने वाली हर चीज की व्यवस्था की गई है. टॉयलेट तक किसान ने ट्रक में बनाया है. वहीं बैठने के लिए शोफे, सोने के लिए बेड, एलईडी स्क्रीन, पंखे, फ्रीज तक ट्रक के अंदर बने घऱ में रखे गये हैं. किसान ने ट्रक से नीचे भी एक झोपड़ी बनाई है, जिसमें बेड लगाकर पंखा लगा गया है.
हरियाणा: गोलियों की तड़तड़ाहट से दहला सोनीपत, जिम में 3 युवकों को मारी गोली, हालत गंभीर

पंजाब के जालंधर के रहने वाले किसान हरप्रीत का कहना है कि उन्हें पहले ही पता था कि आंदोलन लंबा चलेगा, इसीलिए उन्होंने अपने ट्रक में ही घर बना लिया, ताकि उन्हें घर की कोई याद ही ना आए और घर में इस्तेमाल होने वाली हर एक वस्तु इस ट्रक में मौजूद है. किसान हरप्रीत का कहना है कि वह 28 तारीख से ही आंदोलन में सेवा कर रहा है और उसी दिन से लंगर चला रहे हैं.

ट्रक में घर इसलिए बनाया था कि वह आराम से रह सके और रहने में कोई असुविधा ना हो. इसीलिए टॉयलेट भी ट्रक के अंदर ही बना दिया है. सारा दिन ट्रक के अंदर नहीं रह सकते इसलिए ट्रक के नीचे भी एक झोपड़ी बना रखी है. इस झोपड़ी में आने वाले मेहमानों की व्यवस्था की गई है और ऊपर एक पंखा लगाया गया है और बेड की व्यवस्था है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज