लिंग जांच और गर्भपात क्लीनिक पर छापा पड़वाने में की मदद तो मिलेगा इतना इनाम

उप सिविल सर्जन (PNDT) डॉ. जेपी प्रसाद ने हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों से बात करते हुये.
उप सिविल सर्जन (PNDT) डॉ. जेपी प्रसाद ने हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों से बात करते हुये.

लिंग जांच (Gender check) और गर्भपात (Abortion) पर पूरी तरह से लगाम लगाने के लिए हरियाणा (Haryana) सरकार ने इन गतिविधियों की सूचना देने वाले को डिकॉय मनी (Decoy money) देने का फैसला किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 6:44 PM IST
  • Share this:
पलवल. उप सिविल सर्जन (PNDT) डॉ. जेपी प्रसाद ने कहा कि गर्भ में लिंग जांच करवाने या गर्भपात (Abortion) करवाने संबंधी सूचना देने पर सरकार (Government) की ओर से सूचना देने वाले व्यक्ति को एक लाख रुपए का इनाम दिया जाता है. इसी प्रकार लिंग जांच जैसी गतिविधियों पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाने के लिए रैड आदि में मदद करने वाले व्यक्तियों को भी डिकॉय मनी (Decoy Money) प्रदान की जाएगी, जिसकी सिफारिश जिला परामर्श समिति की बैठक में की गई है.

समिति ने प्रदेश और जिले से बाहर रैड करने की स्थिति में 50 हजार रुपए, जिला के अंदर रैड करने की स्थिति में 30 हजार रुपए और एमटीपी से संबंधित गतिविधि में मदद के लिए 20 हजार रुपए देने की सिफारिश की है. उप सिविल सर्जन कार्यालय में प्रसव पूर्व लिंग जांच जिला परामर्श समिति की मंगलवार को हुई बैठक में एजेंडे में शामिल कुल 10 बिंदुओं पर विचार-विमर्श कर उचित कार्रवाई की सिफारिश की गई। बैठक में डॉ. विरेंद्र अल्ट्रासाउंड सेंटर, गांव बामनीखेडा पलवल में नया अल्ट्रासाउंड सेंटर खोलने संबंधी आवेदन को विभागीय नियमों के अनुसार रद्द करने की सिफारिश की है.

लापरवाही का आरोप: नागरिक अस्पताल के बाथरूम में महिला ने दिया बच्चे को जन्म



इसी प्रकार गुरुनानक हॉस्पिटल द्वारा एमआरआई की नई मशीन खरीदने के आवेदन में निरीक्षण के बाद नई मशीन खरीदने की अनुमति देने की सिफारिश की है. भावना हॉस्पिटल हथीन द्वारा किए गए आवेदन में दस्तावेज पूरे न होने पर समिति ने नोटिस जारी कर दस दिन में सभी दस्तावेज पूरे करने और ऐसा न करने की स्थिति में आवेदन को रद्द करने की सिफारिश की है. श्री सत्यसांई संजीवनी इंटरनेशनल सेंटर फॉर चाइल्ड हार्ट केस एंड रिसर्च बघौला की ओर से ईको कार्डियोलॉजिस्ट का नया नाम जोडऩे संबंधी आवेदन पर समिति द्वारा निरीक्षण के बाद नया नाम जोडने की अनुमति देने की सिफारिश की है.
अस्पतालों को उपकरण दिलाने की शिफारिश
इसके बाद उपमंडल अस्पताल होडल में गांव सौंद स्थित सीएचसी से अल्ट्रासाउंड मशीन शिफ्ट करने के आवेदन पर निरीक्षण के बाद अनुमति देने की सिफारिश की. इसी प्रकार ज्योति हॉस्पिटल एवं यूरोलोजी सेंटर होडल के आवेदन पर 31 जनवरी 2019 को जिला परामर्श समिति की बैठक में हुए निर्णय के अनुसार ही मशीन सील करने व उसका पंजीकरण रद्द करने की सिफारिश की. इसी प्रकार बालाजी नर्सिंग होम द्वारा अल्ट्रासाउंड की पुरानी मशीन की जगह नई मशीन खरीदने के आवेदन पर समिति द्वारा निरीक्षण के बाद अनुमति देने की सिफारिश की गई.

रोटरी क्लब के आवेदन के अनुसार अल्ट्रासाउंड सेंटर का पंजीकरण रद्द होने की स्थिति में मशीन को सील करने की सिफारिश की गई है. इस बैठक में गायनीकॉलोजिस्ट डॉ. सीमा शर्मा, जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी सुरेंद्र बजाड़, डॉ. सरफराज, डॉ. वासुदेव, सोमार्थ एनजीओ से डॉ. सुधीर कपूर सहित अन्य संबंधित अधिकारी और सदस्य मौजूद रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज