नशे के पैसे खत्म हुए तो महिला ने 13 साल की बच्ची से जबरन करवाई जिस्मफरोशी, गर्भवती हुई मासूम

मंडी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. (सांकेतिक फोटो)

मंडी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस (Police) ने केस दर्ज कर लिया है. बच्ची का मेडिकल कराया गया है, चाइल्ड हेल्पलाइन (Child Helpline) भी मामले की देखरेख कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2021, 12:40 PM IST
  • Share this:
यमुनानगर. हरियाणा के यमुनानगर (Yamunanagar) में स्मैक के नशे की लत पूरी करने के लिए जब एक महिला के पास पैसे कम पड़ने लगे तो उसने ऐसा काम करना शुरू कर दिया जिसे सुनकर किसी के भी होश उड़ जाए. महिला पर आरोप (Allegation) है कि उसने 13 साल की छोटी बच्ची को डरा‌ धमका कर हवस के भूखे भेड़ियों को बेचना शुरू कर दिया. इस काम में उसका साथ उसकी एक सहयोगी भी देती थी जो 200 रुपए में अपना कमरा इस घिनौने काम के लिए किराए पर देने का काम करती थी.

ना जाने कितनी बार हैवानों ने इस मासूम बच्ची की आबरू की कीमत लगाकर इसके जिस्म को नोचा होगा? आलम यह है कि जो खुद अभी बच्ची है वह आज एक बच्चे की मां बनने वाली है. महज 13 साल की उम्र में यह बच्ची छह महीने की गर्भवती हो गई. इस बात का खुलासा उस वक्त हुआ जब बच्ची के मां-बाप दर्द होने पर उसे सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे थे. डॉक्टरों को जांच के दौरान उसके गर्भवती होने की बात पता चली. आरोपी महिला पीड़ित बच्ची के पड़ोस में ही रहती है.

 पुलिस ने मामला दर्ज किया

चाइल्ड लाइन इंचार्ज डॉक्टर अंजू वाजपेई के अनुसार बच्ची ने बयान दिए है कि रीटा और प्रिया नामक दो महिलाएं जो ड्रग की भी आदि है. उन्होंने इसके साथ गलत काम करवाया है. जिससे बच्ची 6 महीने की गर्भ से है, और बहुत डरी सहमी हुई है. चाइल्ड लाइन को शक है कि इस जैसी ना जाने और कितनी बच्चियां होंगी जिनके मां बाप प्रतिदिन मजदूरी या किसी अन्य काम से घर से बाहर जाते होंगे और उनकी बच्चियां घर में अकेली होने की वजह से ऐसी औरतों के रैकेट का शिकार बन रही होंगी? अंजू वाजपेई ने बताया कि पुलिस इस गिरोह की जड़े खंगालने में लगी हुई है ताकि और बच्चियों की जिंदगी खराब ना हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज