अपना शहर चुनें

States

6 माह पहले लव मैरिज करने वाली सीता की संदिग्ध परिस्थिति में मौत, संदेह की सुई ससुराल वालों पर

6 महीने पहले लव मैरिज करने वाली सीता की संदिग्ध परिस्थिति में मौत, संदेह की सुई ससुराल वालों पर (सांकेतिक तस्वीर)
6 महीने पहले लव मैरिज करने वाली सीता की संदिग्ध परिस्थिति में मौत, संदेह की सुई ससुराल वालों पर (सांकेतिक तस्वीर)

छछरौली तहसील के गांव जयधर में लव मैरिज करने वाली नवविवाहिता की मौत हो गई है. मायके वालों ने ससुरालियों पर लड़की को जहर देकर मारने का आरोप लगाया है.

  • Share this:
हरियाणा के यमुनानगर जिले में छछरौली तहसील के गांव जयधर में लव मैरिज करने वाली नवविवाहिता की मौत हो गई है. मिली जानकारी के मुताबिक लड़की ने अंतरजातीय विवाह किया था. अब लड़की की मौत के बाद मायके वालों ने ससुरालियों पर लड़की को जहर देकर मारने का आरोप लगाया है. मृतका के पिता का आरोप है कि उनकी बेटी को ससुराल वालों ने जहर देकर मार दिया है.

बेटी को जातिसूचक शब्द कहे जाते थे : पीड़ित पिता

पीड़ित पिता ने आरोप लगाया है कि ससुराल वाले उनकी बेटी को शादी के बाद से प्रताड़ित कर रहे थे. उसे जातिसूचक शब्द कहे जाते थे. फिलहाल, लड़की के परिवार वालों की शिकायत पर पुलिस ने मृतिका के ससुरालियों पर केस दर्ज कर लिया है. मृतिका की पहचान सीता के रूप में हुई है. वह प्रदीप नामक एक लड़के के साथ गांव के स्कूल में पढ़ती थी. वहीं दोनों में प्यार हो गया. इस बीच घटना से 6 माह पहले ही दोनों ने भागकर शादी की थी.



अंतरजातीय विवाह-intercaste marriage
बेटी को जातिसूचक शब्द कहे जाते थे : पीड़ित पिता (सांकेतिक तस्वीर)

संबंधित मामले में जांच अधिकारी एसआई सुभाषचंद्र ने कहा कि लड़की के पिता के बयान पर पुलिस ने मृतिका के पति प्रदीप, उसके भाई संदीप, पिता और मां के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. साथ ही आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गई है. पुलिस का कहना है कि जांच में तथ्यों के सामने आने के बाद दोषी को सजा दी जाएगी.

तबीयत खराब होने की दी थी सूचना 

मामले में सीता (मृतिका) के बुआ के बेटे कर्म सिंह ने बताया कि सीता को जहर देकर मारा गया है. गुरुवार को जब उसे जहर दिया गया, तब उसके ससुराल वालों ने कुछ नहीं बताया. इसके बाद चाचा बलवंत को सूचना दी कि सीता की हालत गंभीर है. वहीं मौत की खबर उन्हें पुलिस से मिली.

ससुराल पक्ष ने आरोपों को बताया गलत

इधर, लड़का पक्ष का कहना है कि जहर देने का आरोप सरासर गलत है. उन्होंने बताया कि गांव में भंडारा था. सीता की सास खुद वहां से कढ़ी चावल लाई थी, क्योंकि सीता को बहुत पसंद थे. इतना जरूर है कि खाने-पीने के परहेज के लिए जरूर कह देते थे. वे उसे अपनी बेटी की तरह रख रहे थे.

ये भी पढ़ें:- पहले CCTV पर किया कलर स्प्रे, फिर एटीएम तोड़कर उड़ाए 11 लाख 

ये भी पढ़ें:- महिला हेड कॉन्स्टेबल के साथ छेड़छाड़, डीएसपी पर लगे आरोप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज