अपना शहर चुनें

States

यमुनानगर के लापरा गांव में घुसा यमुना का पानी, सुरक्षित स्थानों पर पहुंचे लोग

यमुनानगर के लापरा गांव में घुसा यमुना का पानी
यमुनानगर के लापरा गांव में घुसा यमुना का पानी

15 घंटे से ज्यादा लगातार हो रही बारिश और उसके बाद हथनीकुंड बैराज से छोड़े गए पानी की वजह से यमुनानगर में बाढ़ के हालात हैं

  • Share this:
आसमान से बरस रही आफत की बारिश (Rain) ने इन दिनों यमुनानगर में भी कहर बरपाया है. लगातार हो रही बारिश की वजह से जहां सड़कों पर जलभराव है तो वहीं हथनीकुंड बैराज से भी पानी छोड़ा गया है जिससे कई गांव के डूबने का खतरा बना हुआ है. वहीं यमुनानगर के गांव लापरा में यमुना (Yamuna) का पानी घुस गया है. लोगों के घरों में पानी घुस गया जिसके चलते लोग घरों से सामान निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंच गए है. वहीं लिंक रोड पर दो से तीन तीन फ़िट पानी जमा हो गया है.

15 घंटे से ज्यादा लगातार हो रही बारिश और उसके बाद हथनीकुंड बैराज से छोड़े गए पानी की वजह से यमुनानगर में बाढ़ के हालात हैं. हर तरफ खौफनाक मंजर है. सड़कों पर लोगों का निकलना दूभर हो चुका है. तो वहीं कई गांव डूबने की कगार पर हैं जिसकी वजह से लोगों को डर सता रहा है.

सुरक्षित स्थानों पर जाते लोग




हथनीकुंड बैराज से छोड़ा गया पानी
बता दें कि हथनीकुंड बैराज से करीब 4 लाख 30 हज़ार क्यूसिक पानी छोड़ा गया जिसके बाद सोम नदी में भी उफान आ गय. और परेशानी की बात ये है कि बारिश अभी लगातार जारी है. जिससे नेशनल हाईवे पर भी करीब 4 फीट पानी भर गया है. लोगों को डर है कि जल्द कोई समाधान ना निकाला गया तो शहर पर बड़ा खतरा मंडराने वाला है.

मॉनसून की सक्रियता के चलते राज्य में 24 घंटे में 20.7 एमएम से अधिक बरसात हुई है. यह सामान्य से 382 फीसदी अधिक है. इसका कारण पश्चिम विक्षोभ और मॉनसून का एक साथ सक्रिय होना है. इस बड़ी बरसात से प्रदेश में बारिश की कमी 33 से घटकर 26 फीसदी पर आ गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज