होम /न्यूज /हरियाणा /यमुना ने धारण किया रौद्र रूप, दिल्ली सहित हरियाणा के निचले इलाकों पर मंडराया बाढ़ का खतरा

यमुना ने धारण किया रौद्र रूप, दिल्ली सहित हरियाणा के निचले इलाकों पर मंडराया बाढ़ का खतरा

कैचमेंट एरिया में लगातार बारिश से यमुना ने धारण किया रौद्र रूप, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

कैचमेंट एरिया में लगातार बारिश से यमुना ने धारण किया रौद्र रूप, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

हरियाणा के अलावा देश की राजधानी दिल्ली का भी बड़ा हिस्सा यमुना के दायरे में आता है. लिहाजा बिना समय गवाए यमुनानगर प्रशा ...अधिक पढ़ें

यमुनानगर. पहाड़ों में हुई भारी बारिश का असर यमुना नदी में देखने को मिल रहा है. रविवार देर रात अचानक हथिनीकुंड बराज में यमुना का जलस्तर बढ़ने लगा. सुबह 6 बजे यमुना का जलस्तर बढ़ते बढ़ते 2 लाख 96 हजार क्यूसेक हो गया जो हाई फ्लड की श्रेणी में आता है.  गेज की सुइयां खतरे के निशान से काफी ऊपर देख हथिनीकुंड बराज के अधिकारियों की चिंताएं भी बढ़ गई. पानी के लगातार बढ़ते दबाव को देख सभी छोटी नहरे बंद कर दी गई और हथिनीकुंड बराज से खतरे का सायरन बजाकर सभी फ्लड गेट खोल दिए गए.

दरअसल पहाड़ों में होने वाली बारिश से अक्सर मैदानी इलाकों की चिंताएं बढ़ जाती है. खतरे के निशान से ऊपर बहने वाली यमुना अब निचले मैदानी इलाकों में रहने वाले लोगों को डराने लगी है. गौरतलब है कि हरियाणा के अलावा देश की राजधानी दिल्ली का भी बड़ा हिस्सा यमुना के दायरे में आता है. लिहाजा बिना समय गवाए यमुनानगर प्रशासन ने यमुना के रास्ते में आने वाले सभी निचले इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया है.

निचले इलाकों को खाली कर ऊंचाई पर शिफ्ट होने के आदेश जारी
पानी तेजी से इन इलाकों की तरफ बढ़ रहा है इसलिए प्रशासनिक अधिकारियों ने लोगों को यमुना से दूर रहने और निचले इलाकों को खाली कर ऊंचाई पर शिफ्ट होने के आदेश जारी किए है. सिंचाई विभाग के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर आरएस मित्तल ने बताया कि यह पानी दिल्ली की तरफ डिस्चार्ज किया गया है. जो करीब 36 से 48 घंटों के बीच दिल्ली के निचले इलाकों में मुसीबतें बढ़ा सकता है.

Tags: Flood, Haryana news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें