यमुनानगर: बुजुर्ग महिला की हत्या कर प्राइवेट पार्ट में डाली तेल की शीशी, फ्रिज में छिपाया शव
Yamunanagar News in Hindi

यमुनानगर: बुजुर्ग महिला की हत्या कर प्राइवेट पार्ट में डाली तेल की शीशी, फ्रिज में छिपाया शव
बुजुर्ग महिला की हत्या कर शव से दरिंदगी. (सांकेतिक फोटो)

हत्या के मामले में अदालत से उम्रकैद की सजा पाने वाले आरोपी ने यमुनानगर में महिला रेलकर्मी की हत्या के बाद शर्मनाक हरकत को अंजाम दिया. आरोपी को दो दिन की रिमांड पर लेकर पुलिस कर रही है पूछताछ.

  • Share this:
यमुनानगर. जिले से एक बुजुर्ग महिला के साथ हुई दरिंदगी की ऐसी वारदात सामने आ रही है जिसे सुनने के बाद किसी का भी खून खोल उठे. हत्या के केस में पहले से उम्र कैद की सजा काट रहे एक हैवान ने जमानत पर छूटने के बाद घर में अकेली रहने वाली 57 वर्षीय महिला रेलवेकर्मी की पहले हत्या (Murder) कर दी. फिर उसके मृत शरीर के साथ शर्मनाक हरकतों को अंजाम दिया. आरोपी ने महिला की मौत के बाद उसके प्राइवेट पार्ट (Private Part) में तेल की शीशी घुसा दी.

हत्या और शव के साथ दरिंदगी के बाद भी आरोपी की हैवानियत कम नहीं हुई. उसने महिला के नग्न शव को फ्रिज में रखने का प्रयास किया था. पुलिस ने हत्या और बलात्कार जैसी संगीन धाराओं में केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक मुकेश उर्फ मोंटी नामक युवक 23 जून की रात जगाधरी वर्कशॉप की रेलवे कालोनी में 57 वर्षीय महिला रेलवेकर्मी के घर में पिछले दरवाजे से घुस गया. उस समय महिला जाग रही थी. लूट की मंशा से घर में दाखिल होने वाले मुकेश का उसने विरोध किया. इस पर आरोपी ने महिला के सिर पर गमला मार कर उसे गिरा दिया.

शव को फ्रिज में रखने का प्रयास



इसके बाद मोंटी महिला को खींच कर कमरे में ले गया और एक बाल्टी से फिर से महिला के सिर पर प्रहार किया. झड़प के दौरान महिला का गाऊन लगभग उतर चुका था, जिसे देख आरोपी की नीयत खराब हो गई और उसने मृत शरीर से साथ शर्मनाक हरकतें भी की. पुलिस की माने तो मोंटी ने पूछताछ में माना है कि उसने महिला के प्राइवेट पार्ट में तेल की शीशी घुसा दी थी और उसके नग्न शरीर को फ्रिज में रखने का प्रयास भी किया था.
हत्या के केस में सुनाई थी उम्र कैद की सजा

एसपी कमलदीप ने बताया कि मुकेश उर्फ मोंटी ने 2011 में अपने एक साथी की मदद से अपने दोस्त अमित गढ़वाली की बेहद खौफनाक तरीके से हत्या कर दी थी. मारने वाला अपने खून से दीवार पर लिख गया था कि मेरा कातिल मोंटी है. इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया और 2013 में अदालत ने उसे दोषी करार देते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई थी.

जमानत पर था आरोपी

2017 में हाइकोर्ट से मोंटी को जमानत मिल गई थी. तब से लेकर अब तक वह जमानत पर ही था. 23 जून 2020 को इसने 57 वर्षीय महिला रेलवे कर्मी की निर्मम हत्या कर उसके मृत शरीर के साथ दरिंदगी को अंजाम दिया. पुलिस के अनुसार मोंटी महिला रेलवे कर्मी के घर से 300 रुपए भी चुराकर ले गया था. फिलहाल पुलिस ने मोंटी को कोर्ट में पेश कर पूछताछ के लिए उसे दो दिन की रिमांड पर ले लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading