लाइव टीवी

यमुनानगर : मंडियों में ट्रैक्टर ट्राली भरकर यूपी से लाए जा रहे हैं धान, चिंतित हुए हरियाणा के किसान

Tilak Bhardwaj | News18 Haryana
Updated: November 2, 2019, 12:48 PM IST
यमुनानगर : मंडियों में ट्रैक्टर ट्राली भरकर यूपी से लाए जा रहे हैं धान, चिंतित हुए हरियाणा के किसान
उत्तर प्रदेश के किसान व ठेकेदार खिजराबाद मंडी, छछरौली मंडी और जगाधरी मंडी में धान से भरी गाड़ियों को ले जा रहे थे.

अब सवाल उठता है कि यमुनानगर के किसानों को क्या फिर से अपना धान बेचने के लिए सड़कों पर उतरना होगा.

  • Share this:
यमुनानगर. धान की खरीद (Paddy Purchase) को लेकर हरियाणा (Haryana) के किसानों (Farmers) के चेहरों पर चिंता के बादल छाए हुए हैं. वहीं रात के अंधेरे में जो काम हरियाणा के किसान नहीं कर पा रहे हैं वह उत्तर प्रदेश के किसान और ठेकेदार बड़े ही आराम से कर रहे हैं. यमुनानगर में उत्तर प्रदेश से आने वाले धान पर पाबंदी है, लेकिन बाहर के धान को रोकने के लिए रात को न तो कोई नाका नजर आया और न ही कोई अधिकारी दिखाई दिया. ऐसे में बे रोक टोक उत्तर प्रदेश से सैकड़ों ट्रैक्टर ट्राली व अन्य गाड़ियों से धान यमुनानगर की मंडियों (Yamunanagar Market) में लाए जा रहे हैं.

नाकों पर कोई रोकटोक नहीं

यमुनानगर के किसानों का धान मंडी के अधिकारी खरीदने में आनाकानी करते हैं. इसे लेकर किसान दो बार सड़कों पर उतर कर रोड जाम कर चुके हैं. इस मामले को लेकर किसान प्रशासन को चेतावनी भी दे चुके हैं. बावजूद इसके यहां के किसानों की नहीं सुनी गई. अब पता चला है कि धान खरीदने को लेकर आनाकानी करने में हकीकत क्या थी. इस बारे में प्रशासन को बहुत कुछ पता था.

यमुनानगर की मंडियों में धान महंगा बिकता है

उपायुक्त ने उत्तर प्रदेश की सीमा पर आने वाले रास्तों पर खाद्यापूर्ति विभाग को पुलिस के साथ मिलकर नाके लगाने को कहा था. हैरानी इस बात की हुई कि नाकों पर कोई भी अधिकारी व कर्मचारी ड्यूटी नहीं कर रहा है. हथिनी कुंड बैराज पर कोई भी अधिकारी व कर्मचारी नजर नहीं आया. यहां धड़ल्ले से उत्तर प्रदेश के किसान व ठेकेदार खिजराबाद मंडी, छछरौली मंडी और जगाधरी मंडी में धान से भरी गाड़ियों को ले जा रहे थे. इन किसानों और ठेकेदारों ने साफ कहा कि उन्हें उत्तर प्रदेश में धान का सही रेट नहीं मिल रहा है. उन्होंने कहा कि यमुनानगर में यही धान 150 रुपये तक महंगा बिकता है.

इन किसानों और ठेकेदारों ने साफ कहा कि उन्हें उत्तर प्रदेश में धान का सही रेट नहीं मिल रहा है.


यमुनानगर की मंडियों में बाहरी धान के न आने को लेकर प्रशासन की सख्ती तो जरूर दिखी, लेकिन हैरानी इस बात की थी कि हथिनी कुंड बैराज पर खुले आम धान यमुनानगर जिले में लाया जा रहा था. ऐसे में अब सवाल उठता है कि यमुनानगर के किसानों को क्या फिर से अपना धान बेचने के लिए सड़कों पर उतरना होगा.
Loading...

ये भी पढ़ें - SMOG: हरियाणा सरकार पराली जलाने की सूचना देने वालों को 1000 रुपये देगी इनाम

ये भी पढ़ें - महाराष्ट्र से युवक की डेड बॉडी पहुंची मेवात, पत्नी और पिता ने की जांच की मांग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए यमुनानगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 2, 2019, 12:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...