Home /News /haryana /

radaur grain market flag hoisting ceremony minister anil vij attacked the opposition nodelsp

ध्वजारोहण किया, सलामी ली और फिर मंत्री अनिल विज ने कसा विपक्ष पर तंज

रादौर अनाज मंडी में जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया गया.

रादौर अनाज मंडी में जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया गया.

Independence Day Celebrations in Haryana: रादौर अनाज मंडी में जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया गया. समारोह में हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली. विज ने शहीदों व स्वतंत्रता सेनानी परिवारों को सम्मानित भी किया.

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पूरे हरियाणा में देशभक्ति के कार्यक्रमों की धूम रही. रादौर अनाज मंडी में जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया गया. समारोह में हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की और ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली. ध्वजारोहण से पूर्व मंत्री ने मार्केट कमेटी परिसर में बनाए गए शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर नमन किया. इस मौके पर जिले के विभिन्न निजी व सरकारी स्कूलों के बच्चों ने अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश कर समां बांध दिया. इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने शहीदों व स्वतंत्रता सेनानी परिवारों को सम्मानित भी किया. संस्कृति कार्यक्रम से खुश होकर विज ने 21लाख की राशि दी है. इसे डीसी वितरित करेंगे.

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए अनिल विज ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस को 75 साल हो गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर घर तिरंगा के तहत विभिन्न धर्मों, जातियों, भाषाओं के लोगों को एक सूत्र में पिरोने के लिए महान कार्य किया गया है. उन्होंने कहा कि देश में आज कश्मीर से कन्याकुमारी तक तिरंगे की धूम है.

मंत्री बोले- खेल नीति पर सवाल उठाने वाले हुड्डा साहब को आते हैं नींद में सपने
उन्होंने कहा कि हमारी खेल नीति पर सवाल उठाने वाले हुड्डा साहब को नींद में सपने आते हैं, जबकि हमारी सरकार में ही खिलाड़ियों को पूरा मान सम्मान दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि आज समारोह में भाग लेने वाली हर प्रतिभागी टीम को सम्मान देने के लिए 21 लाख रुपए राशि दी गई है, जिसे डिप्टी कमिश्नर अपने विवेक से वितरित करेंगे.

स्वास्थ्य क्षेत्र में ऐसा काम करेंगे जो कहीं नहीं हुआः अनिल विज

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि पहले मांग के मुताबिक सीएचसी और पीएचसी आदि बनाए जाते थे, मगर अब ऐसी व्यवस्था की जा रही है जिसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन की एजेंसी मापदंड तय कर बताएगी कि कहां सीएचसी और पीएचसी या फिर चिकित्सकों की जरूरत है. यह देश में ऐसी पहली योजना होगी जिसे केंद्र सरकार ने भी सराहा है और इसके लिए बाकायदा एक करोड़ की ग्रांट राशि भी रिलीज की है.

Tags: Haryana news, Home Minister Anil Vij, Independence day, Radaur News

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर