उफनते नाले में बह गया बुजुर्ग, लोगों ने जान पर खेल कर बचाया

यमुनानगर में हो रही बरसात के कारण नाले उफान पर हैं और ऐसे में एक बुजुर्ग जो अपनी साइकिल से जा रहा था वह नाले में साइकिल सहित जा गिरा.

News18 Haryana
Updated: July 13, 2019, 2:22 PM IST
News18 Haryana
Updated: July 13, 2019, 2:22 PM IST
यमुनानगर में हो रही बरसात के कारण नाले उफान पर हैं और ऐसे में एक बुजुर्ग जो अपनी साइकिल से जा रहा था वह नाले में साइकिल सहित जा गिरा. नाले में पानी का बहाव काफी तेज होने के कारण बुजुर्ग नाले में दूर तक बह गया. जब बुजुर्ग को लोगों ने बहते देखा तो लोगों ने अपनी जान पर खेल कर बुजुर्ग को नाले से निकाला. मामला यमुनानगर के विशाल नगर क्षेत्र का है यहां हो रही बरसात के कारण गंदे नाले ओवर फलो हो रहे है जिसके चलते हादसे भी आय दिन होते रहते है. बुजुर्ग  के अलावा गाय और बछडा भी पानी में बह गया जिनको निकाला नहीं जा सका और गाय और बछडे की मौत हो गई.

बुजुर्ग को पानी में डूबने ले बचाया, Saved the elderly to drown in water
नाले से निकालने के बाद बुजुर्ग के पेट से पानी निकालते लोग




लोगों ने अपनी जान पर खेल कर बचाई बुजुर्ग की जान

बुजुर्ग की जान बचाने के लिए लोगों ने अपनी जान की परवाह किए बिना ही नाले में झलांग लगा दी. वहीं कुछ लोग लोहे के पाइपों पर खडे होकर उसे बचाने लगे. काफी समय तक बुजुर्ग को बचाने की कोशिश की गई और यह कोशिश रंग भी लाई. लोगों ने जैसे-तैसे बुजुर्ग को पानी से बाहर निकाल लिया हालाकि बाहर निकालने पर बुजुर्ग होश में नही था लेकिन लोगों का साहस ऐसा था कि उन्होने हार नहीं मानी और स्वयं ही बुजुर्ग के पेट से पानी निकालने लगे. पेट से पानी निकालने के बाद उसे निजी अस्पताल में ले गए जहां डाक्टरों ने प्रारंभिक उपचार के बाद उसे दूसरे अस्पताल में रेफर कर दिया.

बुजुर्ग को पानी में डूबने ले बचाया, Saved the elderly to drown in water
नाले से निकालने के बाद बुजुर्ग को नजदीकी अस्पताल में ले जाते हुए


टूटी हुई पुलिया दे रही हादसों को निमंत्रण

पानी में बहने वाला बुजुर्ग  की पहचान शिवुपरी के किशन लाल बताई जा रही है. बुजुर्ग के पानी में बह जाने की घटना के बाद ही एक गाय और बछडा भी नाले में बह गए. लोगो ने उन्हें भी बचाने की कोशिश की लेकिन यहां उनकी कोशिश सफल नहीं हो पाई. जिसके बाद लोगो ने निगम से जेसीबी को बुलवा कर गंदे पानी में पडे मलबे को बहार निकाला और तब जाकर पानी में डूब कर मर चुके बछडे को निकाला गया.
Loading...

कुछ दिन पहले भी एक व्यक्ति लाजपत नगर में पानी में बहकर दूर चला गया था जिसकी पानी में डूबने से मौत हो गई थी. सवाल उठता है कि जब पानी सिर पर आ गया है तब निगम हरकत में क्यू आता है. बरसात  के मौसम के पहले ही अगर नालों की सफाई कर ली जाए तो ऐसी घटनाओं से बचा जा सकता है. नाले के उपर टूटी हुई पुलिया अक्सर हादसो को निमंत्रण दे रही है. आज तो लोगो ने इस बुजुर्ग की जान को बचा ली, पर आने वाले समय में इस तरह की घटना ना हो इसके लिए लोग निगम से जल्द से जल्द पुलिया को ठीक कर नालों की सफाई की मांग कर रहे है.

(यमुनानगर से रविंद्र धीमान की रिपोर्ट)
ये भी पढ़ें- सेना के जवान ने फेसबुक पर विदेशी महिला से शेयर की खुफिया जानकारी, गिरफ्तार

फतेहाबाद: गंदे नाले में गिरा सांड, लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद निकाला बाहर
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...