घर से नकदी-जेवर लूटकर भाग रहे बदमाशों का बच्चों ने किया डटकर मुकाबला, कार छोड़कर भागे

बदमाशों ने जब घर में पड़ा कैश ज्वैलरी व अन्य कीमती सामान को लूट लिया तो भागते समय दीपा ने एक बदमाश को पकड़ लिया. बदमाश दीपा के हाथ से मोबइल छीन कर फरार होने लगा. दीपा व उसका भाई बदमाशों के पीछे भागे.

Tilak Bhardwaj | News18 Haryana
Updated: April 3, 2019, 3:52 PM IST
Tilak Bhardwaj | News18 Haryana
Updated: April 3, 2019, 3:52 PM IST
यमुनानगर के पटेल नगर निवासी अशोक यादव के घर पर उसी के नौकर ने बदमाशों के साथ मिलकर मालिक के यहां से 5 लाख की नकदी व 2 लाख के जेवरात लूट लिए. वारदात के वक्त अशोक कुमार फरीदाबाद में  थे लेकिन इस दौरान अशोक कुमार की एक बेटी व बेटे ने गजब का साहस दिखाया. इन दोनों बच्चों ने बदमाशों से डटकर मुकाबला किया. दोनों ना उनकी जान से मारने की धमकियों से डरे और ना अपने ऊपर किए गए फायरों से डरे. बच्चों के शोर मचाते पीछा करते दौड़े तो बदमाश अपनी स्वीफ्ट कार छोड़कर भागने पर मजबूर हो गए.

आरोप है कि उनका नौकर जोकि 15 दिन पहले ही काम छोड़ कर चला गया था, वह तीन अन्य बदमाशों के साथ आया और आते ही उसने पिस्तौल के बल पर बच्चों व घर की मालकिन को कमरे में बंद कर दिया.


बदमाश कमरे में बंद करने के साथ सबको बांधने की भी बात कर रहे थे लेकिन 15 साल की दीपा उसके भाई ने साहस दिखाते हुए बदमाशो का मुकाबला किया. बदमाश उन्हें बार-बार जान से मारने की धमकी दे रहे थे लेकिन बच्चे उनकी इस धमकी से नहीं डर रहे थे.

बदमाशों ने जब घर में पड़ा कैश ज्वैलरी व अन्य कीमती सामान को लूट लिया तो भागते समय दीपा ने एक बदमाश को पकड़ लिया. बदमाश दीपा के हाथ से मोबइल छीन कर फरार होने लगा. दीपा व उसका भाई बदमाशों के पीछे भागे. इस पर बदमाश घर के बाहर के दरवाजे को बंद करके भागने लगे. इसके बाद दोनों बहन भाई ने दरवाजे के बीच में ही फंसे रहते शोर मचाया. किसी तरह किवाड़ खोल दोनों भाई बहन गली में फिर शोर मचाते हुए बदमाशों के पीछे भागने लगे. उनका सोचना था कि शायद गली के लोग बाहर निकल कर बदमाशो को पकड़ने में उनकी मदद करें.

बदमाशों ने अपने आप को फंसे हुए देख मासूम बच्चों पर एक के बाद एक तीन फायर भी दागे लेकिन दोनों बच्चे इन बदमाशों की गोलियों के आगे भी नहीं झुके. पुलिस को गली के बीच में लगे एक सीसी कैमरे से बदमाशों की भागने और फायरिंग की फुटेज मिली है. बच्चों का साहस देख बदमाश जिस कार में आए थे, उसे भी मौके पर ही छोड़कर फरार हो गए. सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने पाया कि कार का नंबर फर्जी है.

यह भी पढ़ें - सुपर मॉल सहित अनेक स्पा व समाज पार्लरों पर पुलिस का छापा, जिस्म फरोशी का चल रहा था धंधा

यह भी पढ़ें - सबसे ज्यादा फूट-फूटकर रोने वाली भतीजी ने ही कराई थी चाचा की प्रेमी के हाथों हत्या
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...