फारुक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती पहले पाकिस्तान अब चीन की भाषा बोल रहे- रतनलाल कटारिया

केन्द्रीय मंत्री रतनलाल कटारिया एक कार्यक्रम के सिलसिले में यमुनानगर पहुंचे थे.
केन्द्रीय मंत्री रतनलाल कटारिया एक कार्यक्रम के सिलसिले में यमुनानगर पहुंचे थे.

केन्द्रीय मंत्री रतनलाल कटारिया (Ratanlal Kataria) ने कहा कि फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) पाकिस्तान और चीन की बोली बोलते हैं. भारत से जो शत्रुता रखते हैं, उनकी मदद से धारा 370 को रद्द करवाना चाहते हैं.

  • Share this:
यमुनानगर. केंद्रीय जल शक्ति राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया (Ratanlal Kataria) ने कहा कि फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) और महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) हताश लोगों का टोला है. ये लोग देश की एकता व अखंडता के साथ खिलवाड़ करना चाहते हैं. छह दल आपस में मिलकर 370 के दर्जे को फिर से बहाल करवाना चाहते हैं, लेकिन इनके किसी भी मनसूबे को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा.

कटारिया ने कहा कि फारुख अब्दुल्ला पाकिस्तान और चीन की बोली बोलते हैं. भारत से जो शत्रुता रखते हैं, उनकी मदद से धारा 370 को रद्द करवाना चाहते हैं. मगर हिंदुस्तान की जनता ऐसे किसी भी प्रयास को सफल नहीं होने देगी.

कटारिया ने कहा कि जम्मू कश्मीर में तेजी से विकास हुआ है. डॉक्टर अंबेडकर भी संविधान में धारा 370 नहीं लगाना चाहते थे, लेकिन पंडित नेहरू ने यह कहकर यह धारा लगाई कि यह स्वयं ही समाप्त हो जाएगी. उन्होंने कहा कि 70 सालों में इनलोगों ने इसे नहीं हटाया, लेकिन मोदी सरकार ने यह साहसिक कदम उठाया है.



पराली से महज 4 फीसदी प्रदूषण
रतनलाल कटारिया ने पराली जलने से होने वाले प्रदूषण पर ही सवाल खड़े करते हुए कहा कि पराली से महज 4 फीसदी प्रदूषण होता है, जबकि 96 फीसदी प्रदूषण डस्ट, कंस्ट्रक्शन एवं जलवायु परिवर्तन से होता है. इसके अलावा कोरोनाकाल में ई-मेडिकल कचरे के प्रबंधन की भी जरूरत है.



केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पराली को लेकर सरकार द्वारा गाइडलाइन एवं एडवाइजरी जारी की जा रही है, जिसके अन्तर्गत किसानों को पराली के फायदे भी बताए जाएंगे.

बीजेपी की जीत का दावा

वहीं बरोदा उपचुनाव को लेकर कटारिया ने दावा किया कि बरोदा में कुछ ही समय पहले 650 करोड़ के विकास कार्य करवाए गए हैं. अब बीजेपी ने वहां योगेश्वर दत्त को मैदान में उतारा है जो रिकॉर्ड मतों से विजयी होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज