होम /न्यूज /हरियाणा /

OMG! सहारनपुर-पंचकूला हाईवे पर आवर्धन नहर पर बने पुल के 4500 नट बोल्ट ले उड़े चोर

OMG! सहारनपुर-पंचकूला हाईवे पर आवर्धन नहर पर बने पुल के 4500 नट बोल्ट ले उड़े चोर

यमुनानगर जिले में आवर्धन नहर पर बने पुल के नीचे से चोर हजारों नट बोल्ट खोलकर चुरा ले गए. इससे पुल के जोड़ खुल गए हैं.

यमुनानगर जिले में आवर्धन नहर पर बने पुल के नीचे से चोर हजारों नट बोल्ट खोलकर चुरा ले गए. इससे पुल के जोड़ खुल गए हैं.

Yamuna Nagar Bridge Nut Bolt Stolen: एनएचएआई के इंजीनियर संजीत गोयल ने बताया कि इस पुल से प्रतिदिन 20 से 22 हजार वाहन गुजरते हैं. जिनमें 10 हजार के आसपास भारी वाहन शामिल है. भविष्य में ऐसी घटनाएं न हो उसके लिए हाईवे अथॉरिटी की गाड़ी हर चार घंटों बाद गश्त करेगी. ना केवल यहां, बल्कि हर जगह पेट्रोलिंग करवाई जाएगी और कर्मचारी पुल के नीचे जाकर चेक किया करेंगे कि कहीं कोई गड़बड़ तो नहीं हो रही, ताकि नशा तस्करी करने वाले जो भी चोर हैं, उन्हें भी पकड़ा जा सके.

अधिक पढ़ें ...

यमुनानगर. हरियाणा के यमुनानगर जिले में आवर्धन नहर पर बने पुल के नीचे से चोर हजारों नट बोल्ट खोलकर चुरा ले गए. इससे पुल के जोड़ खुल गए और कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है. चोरी हुए नट बोल्ट की संख्या करीब 4500 बताई जा रही है. गांव पांजपूर में यमुना आवर्धन नहर के ऊपर से गुजर रहे लोहे के इस पुल से रोजाना हजारों वाहन गुजरते हैं. इस मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब कुछ ग्रामीणों की नजर इन खुले हुए नट बोल्ट पर गई.

ग्रामीणों ने इसका वीडियो बनाकर वायरल कर दिया. यह जानकारी जब राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को हुई तो हड़कंप मच गया. ऐसा होना स्वाभाविक भी था, क्योंकि नट बोल्ट निकाल लेने से पुल से गुजरने वाले लोगों की जिंदगी जो खतरे में पड़ गई है. पुल के सपोर्ट के लिए अप-डाउन दोनों तरफ तीन-तीन बड़े गार्डर रखे हुए हैं. इनको जोड़ने के लिए लगे लोहे के एंगल से ही यह नट बोल्ट चुराए गये हैं. जो नट बोल्ट आपस में वेल्डिंग किए गए थे, सिर्फ वही बचे हैं.

पुलिस ने मौके का निरीक्षण कर जांच शुरू की

इस मामले में सदर यमुनानगर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस का कहना है कि उनके पास सूचना आई थी कि एनएच 344 पर करेड़ा खुर्द गांव के पास जो आवर्धन नहर पर पुल बना हुआ है. उसके नट बोल्ट चोरी हो गए हैं. मौके पर जाकर देखा गया तो सूचना सही पाई गई. लगभग 4000 के आसपास नट बोल्ट चोरी हो गए है. एनएचएआई के अधिकारी संजीत कुमार और रमेश कुमार ने भी मौके का निरीक्षण किया था. पता लगाया जा रहा है की इस घटना के पीछे कौन जिम्मेवार हो सकता है.

एनएचएआई के इंजीनियर संजीत गोयल ने बताया कि जैसे ही उन्हें लोगों से सूचना मिली कि ब्रिज के नट बोल्ट चोरी हो गए हैं. उन्होंने पुलिस के साथ मौके का निरीक्षण किया. इससे पहले भी ऐसी वारदात हो चुकी है. उनकी भी एफआईआर दर्ज करवाई गई है. 3 से 4 दिन में इसे ठीक करवा दिया जाएगा.

नशे के सौदागरों का काम

एनएचएआई के इंजीनियर संजीत गोयल ने बताया कि इस पुल से प्रतिदिन 20 से 22 हजार वाहन गुजरते हैं. जिनमें 10 हजार के आसपास भारी वाहन शामिल हैं. भविष्य में ऐसी घटनाएं न हो उसके लिए हाईवे अथॉरिटी की गाड़ी हर चार घंटों बाद गश्त करेगी. ना केवल यहां, बल्कि हर जगह पेट्रोलिंग करवाई जाएगी और कर्मचारी पुल के नीचे जाकर चेक किया करेंगे कि कहीं कोई गड़बड़ तो नहीं हो रही, ताकि नशा तस्करी करने वाले जो भी चोर हैं, उन्हें भी पकड़ा जा सके. इस वारदात में ब्रिज का क्रॉस गाटर चोरी हुआ है और लगभग साढ़े चार हजार नट बोल्ट चोरी हुए हैं, जिनकी कीमत लगभग डेढ़ लाख रुपए है. एनएचएआई के अधिकारी से जब यह सवाल किया गया कि उन्हें किस पर शक है तो उनका कहना थे कि हरियाणा में पंजाब की तर्ज पर नशा तस्करी करने और बेचने वाले बढ़ गए हैं, उनका मानना है कि इस वजह से ऐसी समस्याएं आ रही हैं.

Tags: Haryana News Today, Haryana police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर