करगिल युद्ध में शहीद हुए सबसे कम उम्र के इस जवान ने जीती थी टाइगर हिल

ट्रेनिंग खत्म होने के बाद यूनिट से अभी दो-चार बार छुट्टी भी नहीं गया था और न ही घरवालों और दोस्तों के साथ ठीक से बातचीत हो पाई थी कि करगिल युद्ध शुरू हो गया.

नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 5:09 PM IST
करगिल युद्ध में शहीद हुए सबसे कम उम्र के इस जवान ने जीती थी टाइगर हिल
4 जुलाई 1999 को भारतीय सेना ने टाइगर हिल पर कब्ज़ा किया था.
नासिर हुसैन
नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 5:09 PM IST
फरीदाबाद के एक किसान परिवार में जन्मा यह जवान तीन भाइयों में सबसे छोटा था. सेना में जाने की इच्छा और देश सेवा के जज्बे को देखते हुए घर वालों ने भी सेना में जाने की इजाजत दे दी. भर्ती की कार्रवाई और उसके बाद ट्रेनिंग खत्म होने के बाद यूनिट से अभी दो-चार बार छुट्टी भी नहीं गया था और न ही घरवालों और दोस्तों के साथ ठीक से बातचीत हो पाई थी कि करगिल युद्ध शुरू हो गया.

बेशक इस जवान की ट्रेनिंग कुछ दिन पहले ही खत्म हुई थी और अब वह सेना का जवान बन चुका था तो उसकी तैनाती भी करगिल में हो गई. यह जवान था बराड़ा का मनजीत. मनजीत के घर वालों का कहना है कि वो 17 साल की उम्र में सेना में भर्ती हुआ था. ट्रेनिंग पूरी करने और तैनाती के वक्त उसकी उम्र सिर्फ 18 साल 6 महीने साल थी.

'टाइगर हिल पर कब्जे की कोशिश में मनजीत सबसे आगे थे'

मनजीत के दोस्त उस दिन को याद करते हुए बताते हैं कई मोर्चों पर कामयाब होते हुए मनजीत की यूनिट आगे बढ़ रही थी. इसी दौरान उसकी यूनिट को टाइगर हिल पर कब्जा करने का आदेश मिला. वैसे तो टीम में मनजीत के अलावा और भी बहुत सारे लोग थे, लेकिन टाइगर हिल पर कब्जा करने की कोशिश में मनजीत सबसे आगे थे.

घुसपैठियों के बंकर पर किया सबसे पहले हमला

जब मनजीत की टुकड़ी टाइगर हिल पर चढ़ाई कर रही थी तो थोड़ी ही दूरी पर पाकिस्तानी घुसपैठियों का बंकर साफ नज़र आने लगा था. तभी मनजीत ने आगे बढ़ते हुए कुछ ग्रेनेड और एके-47 के सहारे ही बंकर पर हमला बोल दिया. इसका फायदा उठाते हुए पीछे आ रही टुकड़ी ने घुसपैठियों को संभलने का मौका नहीं दिया और घुसपैठियों को मार-गिराकर बंकर पर कब्जा कर लिया. इस तरह से सिर्फ 18 साल 6 महीने की उम्र में टाइगर हिल को फतेह कर शहादत पाई थी.

ये भी पढ़ें- देश के पहले मुस्लिम एयर फोर्स चीफ जिन्होंने 1971 में पाक को सिखाया सबक
Loading...

जन्मदिवस विशेष: आर्मी के इस मुसलमान अफसर से डरती थी पाकिस्तानी सेना, रखा था 50 हजार का इनाम 
First published: July 17, 2019, 5:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...