बिहार एसएससी की एक और परीक्षा में गड़बड़ी, हाईकोर्ट ने कृषि संयोजकों की नियुक्ति पर लगाई रोक

कोर्ट के फैसले की जानकारी देते वकील

कोर्ट के फैसले की जानकारी देते वकील

संयोजकों की नियुक्ति के लिए बिहार एसएससी ने परीक्षा ली थी. परीक्षा में भारी गड़बड़ी का मामला सामने आया है. वरीय अधिवक्ता वाईवी गिरि ने बताया कि जो लिस्ट बनी है वो गैरकानूनी है.

  • Last Updated: February 16, 2017, 3:17 PM IST
  • Share this:

बिहार में विवाद फिलहाल एसएससी का पीछा छोड़ता नहीं दिख रहा. पेपर लीक प्रकरण को लेकर हुई बदनामी के बाद अब एसएससी की एक और परीक्षा पर ग्रहण लग गया है.

मामला कृषि संयोजकों की नियु‍क्ति से जुड़ा है. संयोजकों की नियुक्ति के लिए बिहार एसएससी ने परीक्षा ली थी. परीक्षा में भारी गड़बड़ी का मामला सामने आया है. वरीय अधिवक्ता वाईवी गिरि ने बताया कि जो लिस्ट बनी है वो गैरकानूनी है.

आयोग ने मार्क्स में हेराफेरी की है, साथ ही तेरह ऐसे लोगों को प्रोन्‍नति दी है जो ओवर एज हैं. इस मामले में पटना हाईकोर्ट ने लगभग 4400 कृषि संयोजकों की नियुक्ति पर फिलहाल रोक लगा दी है. राजीव नयन और अन्य की तरफ से दायर याचिकाओं पर न्यायमूर्ति रवि रंजन ने सुनवाई की.



याचिकाकर्ता की ओर से वरीय अधिवक्ता वाईवी गिरी ने बहस की.  उन्होंने कहा कि परमेश्वर राम के सचिव रहते कई तरह के घोटाले हुए हैं, जिसका सीधा खामियाजा योग्य उम्मीदवारों को भुगतना पड़ रहा है. प्रकरण में अगली सुनवाई 23 फरवरी को होगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज