होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

गजब! स्कूली छात्रा ने बनाया ऐसा हेलमेट जिसे पहने बगैर स्टार्ट नहीं होगी आपकी बाइक

गजब! स्कूली छात्रा ने बनाया ऐसा हेलमेट जिसे पहने बगैर स्टार्ट नहीं होगी आपकी बाइक

घुमारवीं की शिवानी रतवान ने ऐसा हेलमेट बनाया है, जिसे पहने बगैर आपकी बाइक स्टार्ट ही नहीं होगी.

घुमारवीं की शिवानी रतवान ने ऐसा हेलमेट बनाया है, जिसे पहने बगैर आपकी बाइक स्टार्ट ही नहीं होगी.

बिलासपुर जिले के घुमारवीं की शिवानी रतवान (Shivani Ratwan) ने रोड सेफ्टी (Road Safety) के दृष्टिकोण से ऐसा हेलमेट (Helmet) बनाया है, जिसे बिना पहने आपकी बाइक या स्कूटी स्टार्ट नहीं होगी.

बिलासपुर. हिमाचल प्रदेश के-बिलासपुर में राज्य स्तरीय बाल विज्ञान प्रतियोगिता में नन्हे वैज्ञानिकों ने अपनी-अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया. बिलासपुर जिले के घुमारवीं की शिवानी रतवान ने रोड सेफ्टी (Road Safety) के दृष्टिकोण से ऐसा हेलमेट बनाया है, जिसे बिना पहने आपकी बाइक या स्कूटी स्टार्ट नहीं होगी. शिवानी की इस आविष्कार से हर कोई प्रभावित हो रहा है. शिवानी (Shivani Ratwan) का मानना है कि दो पहिया वाहनों की सड़क पर घटित होने वाली घटनाएं स्मार्ट हेलमेट (Smart Helmet) से अवश्य रूक जाएंगी. इससे एक ओर पुलिस प्रशासन को राहत तो मिलेगी ही, वहीं दूसरी ओर लोगों की जिंदगियां भी सुरक्षित हो जाएंगी. शिवानी शिवा इंटरनेशलन स्कूल घुमारवीं की छात्रा है. शिवानी रतवान ने स्मार्ट हेलमेट तैयार किया है.

विज्ञान मेले में हेलमेट बना चर्चा का विषय

शिवानी ने बताया कि बाइक चालक जब तक अपने सिर पर हेलमेट नहीं पहनेगा तब तक मोटर साइकिल स्टार्ट नहीं होगा. यहां पर यह हेलमेंट चर्चा का विषय बना हुआ है. शिवानी रतवान द्वारा तैयार इस हेलमेट को बिलासपुर के बालिका स्कूल में चल रहे 27 वें बाल विज्ञान मेले मेें प्रदर्शित किया गया है. इस मॉडल को स्कूल के भौतिकी विज्ञान के शिक्षक शशि भूषण भारद्वाज के नेतृत्व में शिवानी रतवान ने तैयार किया है.



हेलमेट में रेडियो फ्रीक्वेंसी और वायरलैस भी है अटैच

इस हेलमेट में रेडियो फ्रीक्वेंसी व वायरलेस का प्रयोग किया गया है. इसे अन्य उपकरणों की मदद से हेलमेट पर लगे एंटिना पर संंदेश जाएगा. शिवानी रतवान का कहना है कि अधिकतर सड़क हादसे बिना हेलमेट के बाइक या स्कूटी चलाने के कारण होते हैं. हादसों में बाइकसवार की मौत सिर पर चोट लगने के कारण होती है. शिवानी का कहना है कि अगर सरकार इस तरह के हेलमेट प्रयोग में लाए तो इससे सड़क हादसों में कमी आएगी.

यह भी पढ़ें: आप के बच्चे जिम जा रहे हैं तो इनसे दूर रहें, अन्यथा हो सकते हैं ये दुष्परिणाम

जयराम सरकार ने CRPF को दी 260 एकड़ भूमि, कांगड़ा में तैयार होंगे कोबरा कमांडो

Tags: Bilaspur S26p05, Himachal pradesh, Road accident

अगली ख़बर