बिलासपुर में ‘भ्रष्टाचारी’ पुलिस: हेड कॉन्स्टेबल सस्पेंड, SHO को कारण बताओ नोटिस

थाना कोट के पुलिस हैड कांस्टेबल पर शराब के मामलों को लेकर पैसे मांगने का आरोप लगाया है.

थाना कोट के पुलिस हैड कांस्टेबल पर शराब के मामलों को लेकर पैसे मांगने का आरोप लगाया है.

Bilaspur Police: पुलिस अधीक्षक ने इस मामले पर कडी कार्रवाई करते हुए एसपी विजीलेंस मंडी को भी कार्रवाई व जांच करने के लिए पत्र लिखा है.

  • Share this:
बिलासपुर. हिमाचल प्रदेश (Himachal) में बिलासपुर (Bilaspur) जिले में बिलासपुर पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने भ्रष्टाचार की शिकायत ‌के आधार पर कडी कार्रवाई करते हुए थाना कोट के पुलिस हैड कॉन्स्टेबल को निलंबित कर दिया है. उसे तुरंत लाइन हाजिर होने के आदेश दिए हैं. बिलासपुर पुलिस (Bilaspur Police) के अनुसार, पुलिस अधीक्षक ने इस मामले की जांच का जिम्मा एएसपी अमित कुमार को सौंपा है. साथ में थाना कोट के एसएचओ (SHO) को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

क्या है मामला

दरअसल, मजारी क्षेत्र के लोगों ने थाना कोट के पुलिस हैड कांस्टेबल पर शराब के मामलों को लेकर पैसे मांगने का आरोप लगाया है . इसकी शिकायत डीएसपी नयना देवी को दी थी. इस पर डीएसपी ने इस संबंध में एसपी बिलासपुर को अवगत करवाया था. पुलिस कांस्टेबल पर पिछले काफी समय भ्रष्टाचार की शिकायतें विभाग को मिल रही थी. गौरतलब है कि इससे पहले भी गत वर्ष एसपी दिवाकर शर्मा ने थाना प्रभारी को एनडीपीएस एक्ट के मामलों पर कार्रवाई नहीं करने के विरूद्ध निलबित किया था. एसएचओ ने 18 माह के कार्यकाल के दौरान एनडीपीएस एक्ट का कोई भी मामला दर्ज नहीं किया था.

विजिलेंस करेगी जांच
पुलिस अधीक्षक ने इस मामले पर कडी कार्रवाई करते हुए एसपी विजीलेंस मंडी को भी कार्रवाई व जांच करने के लिए पत्र लिखा है. एसपी ने इस मामले की जांच का जिम्मा एएसपी को सौंपा है तथा कहा है कि अगर इस मामले में और कोई और भी पुलिस कर्मचारी शामिल है तो उसका भी उल्लेख किया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज