बिलासपुर में 14 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म, आरोपी बना रहा समझौता का दवाब

नाबालिग के साथ रेप.
नाबालिग के साथ रेप.

Bilaspur Minor Girl Rape; पुलिस मे दर्ज शिकायत में आरोप लगाया कि 12 सितंबर को दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने वाला आरोपी रामजीदास व उसके साथ 12 लोग उनके घर पर आकर समझौता करने का दवाब डालने लगे तथा उन्हें जान से मारने की धमकी दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 7:30 AM IST
  • Share this:
बिलासपुर. हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर (‌Bilaspur) जिले में स्वारघाट में एक 14 वर्षीय नाबालिग के साथ दुष्कर्म (Rape) का मामला सामने आया है. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दिया है. आरोपी को अभी तक पुलिस गिरफ्तार (Arrest) नहीं कर पाई है.

यह है मामला

बिलासपुर महिला पुलिस थाने में दर्ज शिकायत में पीड़ित 14 वर्षीय नाबालिग की मां ने बताया कि वह गत 7 सिंतबर देर रात साढे दस बजे के पास अपनी झोपड़ीं में खाना बना रही थी. उसी दौरान कोठीपुरा का रहने वाला रामजी दास आया और उसकी 14 वर्षीय नाबालिग लडकी को बहला फुसलाकर कोठीपुरा पंगडडी वाले रास्ते पर ले गया. यहां उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया.



कार में घुमाया
महिला का आरोप है कि रामजी दास ने एक पहले से तैयार योजना के तहत बेटी को एक अन्य कार में बिठाया और इसमें कुछ और लोग भी शामिल थे. कार में बैठे अन्य लोगों ने भी उनकी लडकी के साथ अश्लील हरकतें और दुष्कर्म किया. जब वह आठ सितंबर सुबह स्वारघाट के पास पहुंची तो उसने पीड़िता ने जोर-जोर से चिल्लाना शुरू किया तो उन लोगों ने उनकी लडकी को कैंचीमोड के पास सडक के बीच उतार दिया. उसके बाद उन्हें इस बात की सूचना स्वारघाट पुलिस से मिली कि उनकी लडकी वहां पर है.

समझौते का दवाब

पुलिस मे दर्ज शिकायत में आरोप लगाया कि 12 सितंबर को दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने वाला आरोपी रामजीदास व उसके साथ 12 लोग उनके घर पर आकर समझौता करने का दवाब डालने लगे तथा उन्हें जान से मारने की धमकी दी. पीड़ित का परिवार अनुसूचित जाति से संबंधित है. पुलिस ने में पीडित  14 वर्षीय नाबालिगा की मां की शिकायत के आधार पर आईपीएसी की धारा 363,366, 376 सी, 376-डी,ए, 506 व पोक्सो तथा एससीएसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है. एसपी दिवाकर शर्मा ने मामले की पुष्टि की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज