होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /VIDEO: चंबा में तेंदुए का आतंक, ड्रोन से की तलाश फिर किया रेस्क्यू, कई भेड़-बकरियों को बना चुका था शिकार

VIDEO: चंबा में तेंदुए का आतंक, ड्रोन से की तलाश फिर किया रेस्क्यू, कई भेड़-बकरियों को बना चुका था शिकार

ट्रेंकुलाइजर गन के माध्यम से  वन विभाग के कर्मचारियों ने तेंदुए को पकड़ा है. (सांकेतिक तस्वीर)

ट्रेंकुलाइजर गन के माध्यम से वन विभाग के कर्मचारियों ने तेंदुए को पकड़ा है. (सांकेतिक तस्वीर)

Leopard Terror in Chamba: ट्रेंकुलाइजर गन के माध्यम से वन विभाग के कर्मचारियों ने तेंदुए को बेहोश किया. उसके बाद उसे प ...अधिक पढ़ें

चम्बा. हिमाचल प्रदेश के चम्बा जिला की पल्यूर  पंचायत में तेंदुए के आतंक से लोग परेशान थे. लेकिन, वन विभाग ने तेंदुए को काबू कर लिया है. तेंदुआ यहां पर भेड़-बकरियों को अपना शिकार बना रहा था. पिछले कई दिनों से तेंदुए का आतंक पल्यूर और उसके आसपास के गांव में देखने को मिल रहा था.

जानकारी के अनुसार, कुछ दिन पहले तेंदुए ने पशुशाला में घुसकर करीब 4  भेड़ॉ-बकरियों को मार डाला था. हालांकि, तेंदुए ने अभी किसी इंसान पर हमला तो नहीं किया था, लेकिन ग्रामीणों में उसकी दहशत काफी थी. लोगों को अपने बाल बच्चों की चिंता सता रही थी. स्कूल जाते समय अपने बच्चों के साथ उन्हें छोड़ने जाना पड़ रहा था.

इसी को लेकर ग्रामीणों ने वन विभाग से तेंदुए को पकड़ने की मांग की थी. वन विभाग ने मौके पर पहुंचकर तेंदुए  को पकड़ने के लिए दो पिंजरे लगाए थे. साथ ही देर रात तक विभाग की टीम तेंदुए को पकड़ने के लिए आसपास के क्षेत्र में गश्त भी करती रही. हालांकि, तेंदुआ उनकी पकड़ में नहीं आया. बाद में ड्रोन के माध्यम से भी तलाश की. आखिर  2 दिन बाद तेंदुए ने एक बार फिर उसी गांव में दस्तक दी तो विभाग की टीम ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर आखिर तेंदुए को दबोच लिया. ट्रेंकुलाइजर गन के माध्यम से  वन विभाग के कर्मचारियों ने तेंदुए को बेहोश किया. उसके बाद उसे पकड़कर उपचार के लिए पशु चिकित्सालय में रखा गया. बाद में 24 घंटे की देखभाल उसे छोड़ने का निर्णय लिया  जाएगा.
" isDesktop="true" id="5295941" >
क्या बोला वन विभाग

वन मंडल अधिकारी अमित शर्मा ने बताया कि पल्यूर पंचायत  से तेंदुए के घूमने की काफी शिकायतें आ रही थीं. साथ तेंदुए ने पशुशाला में घुसकर चार भेड़ बकरियों को भी मौत के घाट उतार दिया था. उसके बाद वन विभाग ने तेंदुए को पकड़ने के लिए दो पिंजरे लगाए थे और आज उसे वहीं पर ग्रामीणों की मदद से पकड़ लिया गया है. फिलहाल तेंदुए का उपचार चल रहा है और उसके बाद में आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Chamba news, Himachal pradesh, Leopard attack, Shimla News

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें