शिमला में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना संक्रमित, आधा दर्जन लोगों की रोज हो रही है मौत

शिमला में पुलिस लाउड स्पीकर से लोगों से मास्क लगाने की अपील कर उन्हें जागरूक कर रही है.
शिमला में पुलिस लाउड स्पीकर से लोगों से मास्क लगाने की अपील कर उन्हें जागरूक कर रही है.

जिले में 24 मार्च से अब कोरोना संक्रमितों (Corona Infected) का आंकड़ा 1550 के पार पहुंच गया है. वहीं 50 लोगों की मौत (Death) हो चुकी है. रोज सैकड़ों कोरोना के सैकड़ों मामले सामने आने के साथ ही आधा दर्जन से ज्यादा लोग रोज कोरोना (Corona) से मर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 9, 2020, 11:30 PM IST
  • Share this:
शिमला. पहाड़ों की रानी शिमला (Shimla) में कोरोना (Corona) के मामले लगातार बढ़ रहै हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर प्रशासन भी चिंतित है. लोगों को कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से बचाने के लिए प्रशासन लाउड स्पीकर और पुलिस (Police) की सहायता से जनता को जागरूक कर रहा है. वहीं रोजाना बढ़ रहे मामले प्रशासन के लिए किसी सिर दर्दी से कम नहीं है. 24 मार्च से लेकर अब तक शिमला जिले में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1550 के पार पहुंच गया है, कोरोना संक्रमण से 50 लोगों की मौत हो चुकी है. रोजाना कोरोना के सैंकड़ों नये मामले सामने आ रहे हैं. वहीं रोज कोरोना से मरने वालों की संख्या आधा दर्जन से ज्यादा हो रही है.

कोरोना के बढ़ते मामलों से प्रशासन परेशान
उधर डीसी शिमला अमित कश्यप का कहना है कि प्रशासन ने शिमला जिले  में 24 मार्च से लॉकडाउन करने का निर्णय लिया था. लॉकडाउन तक बहुत कम मामले थे, लेकिन जैसे-जैसे लॉकडाउन में छूट दी गई, वैसे-वैसे मामले बढ़ते जा रहे हैं. जो अब 15 सौ के पार पहुंच चुके हैं. शिमला में मरने वालों की संख्या भी बढ़ गई है. उन्होंने कहा कि अनलॉक -5 में सभी गतिविधयां को चलाने की अनुमति दी गई है, ताकि आर्थिक मंदी से लोगों को राहत मिल सके. इस दौरान सरकार ने हर वर्ग के लोगों को राहत दी है, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामले चिंता का विषय बनते जा रहे हैं.

कांगड़ा में 15 साल की भतीजी से रेप करने वाले दोषी चाचा को 10 साल की जेल




अब कोरोना को रोकने के लिए देश में लॉकडाउन लगाना असंभव है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को रोकने के लिए अभी तक कोई भी दवाई या वैक्सीन नहीं बन पाई है, लेकिन इसका अभी तक एक ही उपचार है, जिसका सभी लोगों को पालन करना होगा. वह है सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाना. इसके साथ ही आपको हाथ साबुन से धोना जरूरी है.

उन्होंने कहा कि अनलॉक -5 में मिली छूट से शिमला आने वाले पर्यटकों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, जिससे मॉल रोड़ और रिज के आसपास के क्षेत्रों में भीड़ लगी रहती है. भीड़ के दौरान कई लोग बिना मास्क के दिखाई देते  हैं जो सरकार के नियमों की अनदेखी है. इसके लिए लोगों को लाउड स्पीकर के जरिए जागरूक किया जा रहा है. साथ ही पुलिस के जवान भी तैनात किए हैं, ताकि लोगों को सरकार द्वारा बताए नियमों का सख्ती से पालन करने को कहा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज