धर्मशाला में हुई थी 25 लाख की चोरी, रुड़की से गिरफ्तार किए चार आरोपी

धर्मशाला पुलिस चोर के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

धर्मशाला पुलिस चोर के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

धर्मशाला के गमरु में 25 लाख रुपये की चोरी (Theft) को अंजाम देकर फरार हुए आरोपियों को पुलिस (Dharamshala Police) की टीम ने उत्तराखंड के रुड़की (Moradabad) से पकड़ने में कामयाब रही है. आरोपियों में एक किन्नर भी शामिल थी.

  • Share this:

धर्मशाला. धर्मशाला के गमरु में 25 लाख रुपये की चोरी (Theft) को अंजाम देकर फरार हुए आरोपियों को पुलिस (Dharamshala Police) की टीम ने उत्तराखंड के रुड़की (Moradabad) से पकड़ने में कामयाब रही है. आरोपियों में एक किन्नर भी शामिल थी. चोरी की वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी मोहम्मद अनीश, मोहम्मद मोनिस, सपना व संजना दिल्ली होते हुए मुरादाबाद पहुंच गए थे और पुलिस ने इनकी मोबाइल की लोकेशन के आधार पर उन्हें खोजने में सफलता हासिल की है. करीब 10 लाख की नकदी और करीब 15 लाख के आसपास सोने व चांदी के आभूषणों पर हाथ साफ करने की मास्टरमाइंड सपना शिकायतकर्ता कांता माई के पास ही रहती थी और रात को चोरी को अंजाम देने के बाद से अपनी सहेली के साथ फरार हो गई थी.

इस चोरी की मास्टरमाइंड भी गिरफ्तार

इस मामले में पुलिस ने पीएसआई नारायण सिंह, मुख्य आरक्षी अरविंद, आरक्षी पंकज, महिला आरक्षी सलोचना देवी व सोनिया की अगुवाई में एक टीम गठित कर यूपी मुरादाबाद भेजी गई थी. पुलिस ने इनके मोबाइल की लोकेशन के आधार पर उनकी धर-पकड़ के लिए कई जगह पर दबिश दी, लेकिन शातिर चोर अपना ठिकाना बदलते रहे. पुलिस ने अपनी जांच जारी रखी और सहारनपुर व रुड़की पुलिस के सहयोग से रुड़की से चार आरोपियों को दबोचने में सफलता हासिल की.

चोरी को अंजाम देने के बाद दिल्ली से खरीदी होंडा सिटी कार
जानकारी के अनुसार चोरी की वारदात को अंजाम देने के बाद दिल्ली के करोलबाग से एक होंडा सिटी गाड़ी खरीद कर उसी में सवार होकर रुड़की तक पहुंचे थे. पुलिस ने आरोपियों से 8 लाख 21 हजार नकदी व करीब 15 लाख के सोने व चांदी के आभूषण बरामद किए हैं.



आरोपियों के पास से पकड़े नकदी व आभूषण

इस संदर्भ में थाना प्रभारी राजेश शर्मा ने बताया कि आरोपियों को पुलिस ने रुड़की से पकड़ने में सफलता हासिल की है और आरोपियों के पास से एक गाड़ी नकदी व आभूषण बरामद कर लिए हैं. उन्होंने कहा कि जल्द ही आरोपियों को न्यायालय में पेश किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: सोलन अस्पताल: लाखों की लागत से बना ऑपरेशन थियेटर, नहीं हुआ एक भी ट्रीटमेंट

सड़क दुर्घटनाओं में हर साल डेढ़ लाख युवाओं की होती है मौत: DIG

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज