जयराम सरकार ने CRPF को दी 260 एकड़ भूमि, कांगड़ा में तैयार किए जाएंगे कोबरा कमांडो
Dharamsala News in Hindi

जयराम सरकार ने CRPF को दी 260 एकड़ भूमि, कांगड़ा में तैयार किए जाएंगे कोबरा कमांडो
कांगड़ा के देहरा के हरिपुर में सीआरपीएफ (CRPF)के कमांडो कोबरा की ट्रेनिंग सेंटर बनने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. (File Photo)

हिमाचल में कांगड़ा जिला के देहरा के हरिपुर में सीआरपीएफ (CRPF)के कमांडो कोबरा की ट्रेनिंग सेंटर बनने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. जयराम सरकार (Himachal Government) ने देहरा में एक रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से 260 एकड़ जमीन सीआरपीएफ के नाम कर दी है.

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश में जिला कांगड़ा के देहरा के हरिपुर में सीआरपीएफ (CRPF)के कमांडो कोबरा की ट्रेनिंग सेंटर बनने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. यहां बहुत ही जल्द सीआरपीएफ के लिए कोबरा कमांडो (Cobra Commando) तैयार किए जाएंगे. इसके लिए बाकायदा हिमाचल सरकार ने सीआरपीएफ को मंजूरी प्रदान कर दी है. जयराम सरकार ने देहरा में एक रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से 260 एकड़ जमीन सीआरपीएफ के नाम कर दी है. सीआरपीएफ ने इस दिशा में जल्दी ही अपनी कार्रवाई शुरू कर देगी.

पूर्व की सरकारों ने इस ओर कभी ध्यान ही नहीं दिया: होशियार सिंह

देहरा के विधायक होशियार सिंह की मानें तो कांगड़ा का देहरा एक ऐसा विधानसभा क्षेत्र हैं, जो हर लिहाज़ से प्रदेश की इकॉनिमी बढ़ा सकता है, लेकिन पूर्व की सरकारों ने इस ओर कभी ध्यान ही नहीं दिया. होशियार सिंह ने कहा कि नतीजतन देहरा हमेशा से हासिये पर सिमटता रहा लेकिन अब जब यहां भारतीय सेना अपनी बड़ी एक्टिविटी करेगी तो लाजमी तौर पर न केवल देहरा का विकास होगा बल्कि यहां के आसपास की लोकेलिटी और देशभर में इस क्षेत्र को इज्जत और मान भी मिलेगा.



CRPF
जयराम सरकार ने देहरा में एक रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से 260 एकड़ जमीन सीआरपीएफ के नाम कर दी है. (File Photo)




यहां रिक्रूटमेंट सेंटर भी बनेगा

विधायक होशियार सिंह ने पिछले दिनों मीडिया कर्मियों से बातचीत में कहा था कि सीआरपीएफ यहां कोबरा ट्रेनिंग सेंटर खोलेगा. यहां 2500 परिवारों के लिए बेस कैंप भी बनेगा. इसके साथ ही यहां रिक्रूटमेंट सेंटर भी बनेगा. उन्होंने कहा कि इस इलाके में दस हज़ार के लगभग नए लोग आएंगे, जिससे इलाके की तरक्की होगी और लोगों को रोजगार भी मिलेगा. उन्होंने कहा कि मैंने भी इस सेंटर के लिए काफी भागदौड़ की है. उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारियों को भी इस जगह का विजिट करवाया गया था.

धर्मशाला में है उत्तर भारत का सबसे बड़ा शहीद स्मारक

गौरतलब है कि कांगड़ा में भारतीय सेना के तीन बड़े कैंटोन्मेंट हैं. इसके अलावा धर्मशाला में उत्तर भारत का इकलौता बड़ा शहीद स्मार्क और युद्ध संग्रहालय है, जहां भारत पाक के बीच हुई लड़ाइयों के जीते-जागते उदाहरण देखने को मिलते हैं.

यह भी पढ़ें: हिमाचल: फौजी जवान की पत्नी ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखा- बेटी का ख्याल रखना

हिमाचल में बनी 13 दवाओं के सैंपल फेल, रद्द होंगे फार्मा कंपनियों के लाइसेंस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading