होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

हिमाचल में धार्मिक उन्माद फैलाने की कोशिश, चंबा के बाद अब धर्मशाला में तोड़ा शिवलिंग

हिमाचल में धार्मिक उन्माद फैलाने की कोशिश, चंबा के बाद अब धर्मशाला में तोड़ा शिवलिंग

धर्मशाला में शिवलिंग तोड़ा गया.

धर्मशाला में शिवलिंग तोड़ा गया.

बीते दिनों जिला चंबा में भी ऐसी ही घटना सामने आई थी, इस तरह की वारदात से प्रदेश के लोगों में काफी आक्रोश है. जिला चंबा के भरमौर में लाहला स्थित शिव प्रतिमा को दो बार तोड़ दिया गया.

धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में धार्मिक उन्माद फैलाने की कोशिश की जा रही है. ताजा मामले में शरारती तत्वों ने शिवलिंग (Shivling) को तोड़ा है. मामला हिमाचल के धर्मशाला (Dharamshala) का है. इससे पहले, चंबा में ऐसे ही दो मामले सामने आए थे.
जानकारी के अनुसार, सदर थाना धर्मशाला (Sadar Police Station Dharamshala) के तहत नगर निगम के वार्ड 17 सिद्धपुर में शिक्षा बोर्ड कॉलोनी के साथ बने शिव मंदिर में रात के अंधेरे में बदमाशों ने मन्दिर में बने शिवलिंग में तोड़फोड़ की. भगवान शिव की मूर्ति और शिवलिंग को उठाकर झाड़ियों में फेंक दिया है. नंदी बैल की मूर्ति का कोई पता नहीं चल पाया है.

बच्चे ने बताया-महिला तोड़ रही थी शिवलिंग
वार्ड पार्षद व ग्राम सुधार सभा सिद्धपुर ने धर्मशाला थाना में इस बाबत सूचना दे दी है. मंगलवार सायं करीब आठ बजे किसी ने मंदिर में तोड़फोड़ की. कॉलोनी में रहने वाले एक बच्चे का कहना है कि एक औरत मंदिर में तोड़फोड़ कर रही थी. बच्चे का कहना है कि जब वह मंदिर की ओर गया और परिजनों को आवाज लगाने लगा तो महिला वहां से फरार हो गई.

पुलिस ने दर्ज किया केस
इस मंदिर की स्थापना करीब चार साल पहले हुई है और 22 फरवरी को भंडारे का आयोजन किया गया था. पार्षद विशाल जम्‍वाल ने बताया कि पुलिस की मदद से मामले की छानबीन करवाई जाएगी. सदर थाना धर्मशाला के प्रभारी राजेश कुमार ने बताया कि केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है.

चंबा में भी घटनाएं
बीते दिनों जिला चंबा में भी ऐसी ही घटना सामने आई थी, इस तरह की वारदात से प्रदेश के लोगों में काफी आक्रोश है. हिमाचल के अधिकतर लोग शिव की अराधना करते हैं, ऐसे में मंदिरों में इस तरह की घटनाएं होने से लोग निराश हैं. जिला चंबा के भरमौर में लाहला स्थित शिव प्रतिमा को दो बार तोड़ दिया गया. बीते महीनों शरारती तत्‍वों ने मूर्ति को तोड़ दिया था, जिसे प्रशासन और पंचायत ने दोबारा बनवा दिया. अब बीते सप्‍ताह दोबारा मूर्ति को खंडित कर दिया गया है.. भरमौर पुलिस प्रशासन इस मामले में अभी तक किसी को भी नहीं पकड़ सका है. अब प्रदेश की दूसरी राजधानी धर्मशाला में इस तरह की वारदात से लोग निराश हैं.

ये भी पढ़ें: डलहौजी-बकलोह मार्ग पर खाई में गिरी कार, घर जा रहे एयरफोर्स कर्मी की मौत

सिरमौर में 16 साल के किशोर पर गिरी आसमानी बिजली, मौत

Tags: Dharamshala, Police, Religion

अगली ख़बर