Coronavirus: 105 रुपये के बजाये ₹500 में बेचा मास्क, मेडिकल स्टोर संचालक पर FIR

कांगड़ा में मास्क की कालाबाजारी. (प्रतीकात्मक फोटो)
कांगड़ा में मास्क की कालाबाजारी. (प्रतीकात्मक फोटो)

मामले के बाद फ़ूड इंस्पेक्टर ने कांगड़ा पुलिस को शिकायत दी और पुलिस ने IPC की धारा 2, 3 के तहत मामला दर्ज किया है.

  • Share this:
धर्मशाला. देश और दुनिया में कोरोना वायरस (Corona virus) की दहशत लगातार बढ़ रही है. इस बीच सेनेटाइजर और मास्क की भी भारी कालाबाजारी और अधिक दामों पर बेचा जा रहा है. हिमाचल के कांगड़ा (Kangra) जिले में सूबे के दूसरे बड़े अस्पताल टांडा मेडिकल कॉलेज में अधिक दाम पर मास्क बेचने पर एक मेडिकल स्टोर संचालक पर केस दर्ज किया गया है. मेडिकल स्टोर (Medical Store) संचालक 105 रुपये का मास्क 500 रुपये में बेच रहा था.

105 रुपये के बजाये 500 में बेचा मास्क
जानकारी के अनुसार, कालाबाजारी और अधिक दामों की सूचनाओं के बाद फूड इंस्पेक्टर पड़ताल के लिए निकले थे. इस दौरान उन्होंने टांडा मेडिकल कॉलेज में एक मेडिकल स्टोर पर दस्तक दी और ग्राहक बनकर मास्क खरीदा. दुकानदार ने मास्क को 105 रुपये के बजाये 500 में बेचा. मेडिकल स्टोर ने GST के साथ प्रिंट रेट से 4 गुणा ज़्यादा दाम मास्क का वसूला.

पुलिस ने दर्ज किया मामला
मामले के बाद फ़ूड इंस्पेक्टर ने कांगड़ा पुलिस को शिकायत दी और पुलिस ने IPC की धारा 2, 3 के तहत मामला दर्ज किया है. आरोपी दुकानदार को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. अतिरिक्त पुलिस थाना प्रभारी जसवीर सिंह ने बताया कि टांडा मेडिकल कॉलेज के गेट के बाहर एक दवाई की दुकान पर फूड इंस्पेक्टर ग्राहक बनकर मास्क खरीदने गए. मास्क का प्रिंट रेट 105 रुपए जीएसटी के साथ था. लेकिन दुकानदार ने 500 रुपए मांगे, जिसकी शिकायत इंस्पेक्टर ने कांगड़ा पुलिस थाना में दी. पुलिस ने मामला दर्ज कर दुकानदार को हिरासत में लेकर जांच शुरू कर दी है. बता दें कि कालाबजारी के तहत 7 साल की सजा का प्रावधान है.



ये भी पढ़ें: डॉक्टरों ने मृत घोषित की बच्ची, 11 घंटे बाद पिता शव लेने पहुंचे तो निकली जिंदा

पीएम मोदी के संबोधन पर बोले CM जयराम-जनता कर्फ्यू का पालन करें लोग

Coronavirus Effect: हिमाचल में टूरिस्ट की एंट्री बैन, वॉल्वो बसों पर भी ब्रेक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज