अपना शहर चुनें

States

हिमाचल में कोरोना के बीच कांगड़ा में फैला पीलिया, 3 दिन में 65 मरीज सामने आए

कांगड़ा में ज्वाली में फैला पीलिया.
कांगड़ा में ज्वाली में फैला पीलिया.

CMO कांगड़ा डॉक्टर गुरदर्शन गुप्ता ने बताया कि ज्वाली से 65 के करीब पीलिया के मरीज सामने आए हैं और उनके सैम्पल भी लिए गए हैं, जिन्हें TMC भेजा गया है, और जल्द ही सैम्पल रिपोर्ट आने के बाद जानकारी हासिल होगी कि पीलिया की वजह क्या है.

  • Share this:
धर्मशाला. कोरोना वायरस (Corona Virus) के खौफ के बीच हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा (Kangra) जिले में पीलिया (Jaundice) भी फैला है. जिले के ज्वाली में 3 दिन में 65 मरीज पीलिया से ग्रसित हुए हैं और दिन-ब-दिन पीलिया (Jaundice) के मामले सामने आ रहे हैं.
जानकारी के अनुसार, ज्वाली इलाके में पीलिया धीरे-धीरे पीलिया विकराल रूप धारण करता जा रहा है और अब तक 65 पीलिया से ग्रसित मरीजों का अलग- अलग-जगहों में इलाज चल रहा है.

अब तक 65 मरीज
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार को पीलिया के मरीजों की संख्या 27 थी. इसके बाद रात को 13 मरीज और सामने आए. सोमवार को 9 मरीज पीलिया अस्पताल पहुंचे. मंगलवार को और 15 मरीजों को पीलिया हो गया. फ़िलहाल ये संख्या 65 तक पहुंच चुकी है. वहीं, पीलिया के चलते IPH विभाग की ओर से कई जगहों से पानी के सैंपल भी लेकर जांच की गई है, जो कि पूर्णतः दुरुस्त पाए गए हैं. फिलहाल, निकासी पाइपों को भी चैक किया जा रहा है. आईपीएच विभाग ने अपने ओवरहैड टैंकों में पानी में ब्लीचिंग पाऊडर की मात्रा भी बढ़ा दी है, लेकिन मामले फिर भी थमने का नाम नहीं ले रहे. वहीं अचानक से पीलिया द्वारा पांव पसारने पर लोगों में दहशत का माहौल हो गया है.
जांच के लिए सैंपल लिए: CMO
CMO कांगड़ा डॉक्टर गुरदर्शन गुप्ता ने बताया कि ज्वाली से 65 के करीब पीलिया के मरीज सामने आए हैं और उनके सैम्पल भी लिए गए हैं, जिन्हें TMC भेजा गया है, और जल्द ही सैम्पल रिपोर्ट आने के बाद जानकारी हासिल होगी कि पीलिया की वजह क्या है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने पीलिया से निपटने के लिए एक टीम गठित की है जो घर-घर जाकर पीलिया से पीड़ित मरीजों को ट्रेस कर रही है और उनका घर-द्वार जाकर इलाज भी किया जा रहा है.



कांगड़ा में ज्वाली में फैला पीलिया.
कांगड़ा में ज्वाली में फैला पीलिया.


तीन दिन से लगातार सामने आ रहे केस
आये दिन पीलिया का कोई न कोई केस सामने आ ही रहा है. ऐसे में जल्द अगर इस पर कंट्रोल न किया गया तो करोना के साथ साथ पीलिया भी लोगों का जीना मुहाल कर देगा साथ ही करोना से पार पाने में जुटा स्वास्थ्य विभाग और उसकी टीमों की ओर ज़्यादा सिरदर्दी बढ़ा देगा. हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने इस बीमारी की रोकथाम के लिए यथासम्भव प्रयास करने शुरू कर दिए हैं.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में सरकारी कर्मियों का कटेगा 1 दिन का वेतन, सभी के लिए मास्क जरूरी

COVID-19: लॉकडाउन के बीच कुल्लू-रोहतांग-केलांग के लिए चलेंगी HRTC बसें

PHOTOS: नहीं मिला लाहौल में एवलांच में लापता किसान, ITBP जवान भी तलाश में जुटे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज