सेना के जवान ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में बुआ-फूफा समेत चार रिश्तेदारों को बताया मौत का जिम्मेदार
Dharamsala News in Hindi

सेना के जवान ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में बुआ-फूफा समेत चार रिश्तेदारों को बताया मौत का जिम्मेदार
छुट्टियों में घर आए सेना के जवान ने की आत्महत्या (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आसाम राइफल (Assam rifle) के जवान ईशान राणा ने पेड़ से लटक कर आत्महत्या कर ली. उसने सुसाइड नोट (suicide note) में अपने फूफा, दो बुआ व उनके बेटे पर उसे आत्महत्या के लिए उकसाए जाने का आरोप लगाया है.

  • Share this:
धर्मशाला/देहरा. छुट्टियों में घर आए सेना के एक जवान (Army soldier) ने कथित तौर पर ख़ुदकुशी (suicide) कर ली. मृत जवान का शव (dead body of army man) पेड़ से लटकता मिला. साथ ही पुलिस को सुसाइड नोट भी बरामद हुआ जिसमें जवान ने अपनी मौत के लिए चार रिश्तेदारों को दोषी ठहराया है. सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने मृत जवान के चारो रिश्तेदारों को गिरफ्तार कर लिया है जिनमें दो महिलायें भी हैं.

आसाम राइफल का जवान मणिपुर में था तैनात
बता दें कि गुरुवार को आसाम राइफल (Assam rifle) के जवान ईशान राणा ने पेड़ से लटक कर आत्महत्या कर ली. उसने सुसाइड नोट में अपने फूफा, दो बुआ व उनके बेटे पर उसे आत्महत्या के लिए उकसाए जाने का आरोप लगाया है. बता दें कि मृतक जवान के फूफा भी सेना से रिटायर्ड कर्नल हैं. फिलहाल पुलिस चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर देहरा कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में धर्मशाला जेल भेज दिया गया.

जेब से मिला सुसाइड नोट
ये घटना देहरा के कस्वा गांव की है. 31 वर्षीय युवक ईशान राणा सेना में कार्यरत था और वह छुट्टी पर घर आया हुआ था. जवान गुरुवार सुबह किसी काम से घर से निकला था. लेकिन जब वो घर नहीं लौटा तो उसे ढूंढा गया और फिर उसका शव आम के पेड़ से लटका हुआ मिला. मृतक सैनिक अपने मां -बाप का इकलौता बेटा है व उसकी पत्नी हिमाचल पुलिस विभाग में कार्यरत है. मृतक की जेब से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला. घटना की सूचना मिलते ही डीएसपी देहरा रणधीर सिंह पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे फिर शव को पेड़ से नीचे उतारा गया. शव की तलाशी लेने पर पुलिस ने मृतक सैनिक की जेब से दो हजार रुपये नगद व सुसाइड नोट बरामद किया. डीएसपी रणधीर सिंह ने बताया कि सुसाइड नोट के आधार पर मृतक के चार रिश्तेदारों किया गया. जिन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में धर्मशाला भेज दिया गया है.



ये भी पढ़ें- मंडी जनपद में एक साथ 10 लोगों की COVID-19 पॉजिटिव रिपोर्ट से मचा हड़कंप

ग्राम प्रधान बीना देवी ने बताया कि मृतक सैनिक आसाम रायफल में मणिपुर में तैनात था और छुट्टी पर आया हुआ था. उसकी पांच साल पहले शादी ही हुई थी, और उसके दो मासूम बच्चे भी हैं. मृतक की मां ने बेटे को आत्महत्या करने के लिए उकसाने वाले रिश्तेदारों के खिलाफ डीजीपी शिमला से मामले की जांच व न्याय की मांग की है. (रिपोर्टर ब्रजेश्वर साकी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading