लाइव टीवी

BJP नेता रविंद्र रवि ने CM पर कसा तंज, कहा- पत्र बम में नाम आए लोगों पर कार्यवाही के लिए स्वागत है

News18 Himachal Pradesh
Updated: November 27, 2019, 9:00 AM IST
BJP नेता रविंद्र रवि ने CM पर कसा तंज, कहा- पत्र बम में नाम आए लोगों पर कार्यवाही के लिए स्वागत है
बीजेपी नेता रविन्द्र रवि ने सीएम जयराम ठाकुर पर तंज कसते हुए कहा कि लेटर बम मामले में जिनके नाम आए हैं, उनपर कार्रवाई के लिए उनका स्वागत करता हूं.

रविन्द्र रवि (Ravindra Ravi) ने सीएम जयराम ठाकुर (Cm Jairam Thakur) के बयान पर पलटवार करते कहा कि पत्र बम (Letter Bomb)में नाम आए लोगों पर कार्यवाही करने के लिए सीएम का स्वागत है. सीएम ने कहा था कि पत्र बम मामले में जिन लोगों का नाम आया है उनपर कार्यवाही होगी.

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश में कड़ाके की ठंड के साथ साथ प्रदेश में सियासी पारा लगातार चढ़ रहा है. भाजपा में गुटबाजी अब खुलकर सामने आ रही है. मुख्यमंत्री और दो मंत्रियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के संगीन आरोपों का पत्र (Letter Bomb) सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद आई फोरेंसिक रिपोर्ट (Forensic Report)  से पार्टी में घमासान तेज हो गया है. पत्र बम मामला अब बीजेपी (BJP) हाईकमान तक पहुंच गया है. इस प्रकरण पर अब रविन्द्र रवि ने सीएम जयराम ठाकुर के बयान पर पलटवार करते कहा कि पत्र बम में नाम आए लोगों पर कार्यवाही करने के लिए सीएम का स्वागत है. सीएम ने कहा था कि पत्र बम मामले में जिन लोगों का नाम आया है उनपर कार्यवाही होगी. उन्होंने राजनीतिक विरोध जताये जाने के सवाल पर कहा कि ऐसा मैं नहीं कह सकता हूं. रविन्द्र रवि ने कहा कि मैं पहले से यह कह रहा हूँ कि जांच होनी चाहिए और उसकी तह तक जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं तीस साल से सक्रिय राजनीति में हूँ. उन्होंने कहा कि 25 साल से लगातार विधायक और मंत्री भी रहा हूं. उन्होंने कहा कि ऐसी बातें मेरे बारे में किसी ने ना सुनी है और न ही मैं करता हूं. उन्होंने कहा कि इस प्रकरण की जांच तह तक होनी चाहिए और दोषियों पर कार्यवाही होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि वायरल सभी करते हैं लेकिन लिखने वाला कौन है, इसपर कार्यवाही होनी चाहिए. रविन्द्र रवि अपने तय कार्यक्रम के दौरान देहरा के आईपीएच रेस्ट हाउस में संविधान दिवस के कार्यक्रम में बीजेपी मंडल की बैठक में आए हुए थे.

यह था मामला...

सोशल मीडिया पर वायरल हुए पत्र मामले में पूर्व कैबिनेट मंत्री रविंद्र रवि की मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं. फोरेंसिक साईंस प्रयोगशाला धर्मशाला से पुलिस को मिली रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हुआ है कि मनोज मसंद नाम के व्यक्ति ने रविंद्र रवि के कहने पर ही उस संदेश को वायरल किया था. इस आशय के सभी संदेश विशेषज्ञ फोरेंसिक साइंस प्रयोगशाला धर्मशाला ने आरोपी के मोबाइल से रिकवर कर लिए हैं. मामले की आगामी जांच जारी है. इस मामले की पुष्टि एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन ने करते हुए कहा है कि अब रविंद्र रवि व मनोज मसंद दोनों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट पेश की जाएगी.

3 सितंबर को दिलबाग सिंह परमार ने की थी थाने में शिकायत

जानकारी के मुताबिक बीते 3 सितंबर को दिलबाग सिंह परमार की शिकायत पर थाना भवारना में मनोज मसंद के खिलाफ एक मामला दर्ज हुआ था. इस शिकायत में यह आरोप लगाया गया था कि 30 अगस्त की रात को फेसबुक पर मनोज मसंद की प्रोफाइल में स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार के खिलाफ झूठी सम्मान को ठेस पहुंचाने वाली सामग्री आपराधिक षड्यंत्र के तहत अपलोड की गई थी. पुलिस ने जब इस संदर्भ में मनोज मसंद से पूछा तो उसने इस बात को कबूल कर लिया था कि ये सब रविंद्र रवि के कहने पर भी उसने किया था. इस मामले में पुलिस ने रविंद्र रवि से पूछताछ भी की थी.

पुलिस ने जांच के दौरान मनोज मसंद तथा रविंद्र रवि के मोबाइल फोन कब्जे में लेकर फोरेंसिक लेब में भेजे थे. यहां से रिपोर्ट प्राप्त हो गई है, जिससे यह स्पष्ट हो गया है कि मनोज मसंद ने रविंद्र रवि के कहने पर ही उस संदेश को वायरल किया था.

( देहरा से ब्रजेश्वर साकी की रिपोर्ट )
Loading...

यह भी पढ़ें: कोलडैम के विस्थापित परिवारों को 16 वर्ष बाद भी नहीं मिल पाई सड़क, शौचालय और बस की सुविधा

हिमाचल में भी हुआ महाराष्ट्र जैसा ड्रामा और वीरभद्र को देना पड़ा था इस्तीफा!

VIDEO: शराब के नशे में 3 युवकों ने मचाया हुड़दंग, पीटते-पीटते थाने ले गई पुलिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 8:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...