Home /News /himachal-pradesh /

Helicopter Crash: कांगड़ा पहुंचा शहीद विवेक का पार्थिव शरीर, CM जयराम ठाकुर ने दी श्रद्धांजलि

Helicopter Crash: कांगड़ा पहुंचा शहीद विवेक का पार्थिव शरीर, CM जयराम ठाकुर ने दी श्रद्धांजलि

 हिमाचल के विवेक का पार्थिव शरीर कांगड़ा लाया गया है.

हिमाचल के विवेक का पार्थिव शरीर कांगड़ा लाया गया है.

CDS Bipin Rawat Helicopter Crash: विवेक की यूनिट नाहन में पोस्टेड थी, लेकिन वह पैरा कमांडो थे और डेढ़ साल पहले ही उन्हें सीडीएस बिपिन सिंह रावत के पीएसओ के रूप में तैनात किया गया था. विवेक बहुत ही स्किल्ड और युद्ध में माहिर फौजी थे. वह कश्मीर में सेवाएं देने के अलावा, चाइना बॉर्डर पर भी तैनात रह चुके थे. वह पैरा कमांडो थे और कॉम्बैट फ्री फॉल में माहिर थे.

अधिक पढ़ें ...

धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के लांस नायक विवेक कुमार का शव गग्गल एयरपोर्ट पर लाया गया है. इस दौरान सीएमजयराम ठाकुर समेत अन्य लोगों ने विवेक के पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि अर्पित की. मुख्यमंत्री ने विवेक के पिता रमेश चंद को ढांढस बंधाया और कहा कि यह आपका नहीं बल्कि पूरे प्रदेश और देश का बेटा है. सरकार की तरफ से विवेक के परिवार को दस लाख रुपये दिए जाएंगे. जयराम ठाकुर ने कहा शहीद के परिवर के एक सदस्‍य को नौकरी देने पर भी विचार किया जाएगा.

शनिवार को दोपहर साढ़े 12 बजे के करीब शहीद विवेक का पार्थिव शरीर कांगड़ा एयरपोर्ट पर सेना के विशेष विमान से पहुंचा. इस दौरान शहीद के पिता प्रीतम चंद और चचेरे भाई अजीत कुमार भी साथ में थे. यहां पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, जयसिंहपुर से विधायक रवि धीमान ने शव को रिसीव किया. सीएम के साथ एसडीएम कांगड़ा अभिषेक वर्मा, एसडीएम जयसिंहपुर पवन शर्मा के अलावा, कांग्रेस नेता कांग्रेस के नेता सुधीर शर्मा भी थे. श्रद्धांजलि देने के बाद विवेक का शव जयसिंहपुर के लिए रवाना किया गया है.

इससे पहले, शुक्रवार को विवेक के परिजन दिल्ली गए थे और वहां उन्होंने विवेक के शव की पहचान की. डीएनए सैंपल भी मैच किए गए. वहीं, सरकार की ओर से विवेक के परिजनों को पांच लाख रुपये की मदद का चेक भी दिया गया है.

कौन थे विवेक

विवेक की यूनिट नाहन में पोस्टेड थी, लेकिन वह पैरा कमांडो थे और डेढ़ साल पहले ही उन्हें सीडीएस बिपिन सिंह रावत के पीएसओ के रूप में तैनात किया गया था. विवेक बहुत ही स्किल्ड और युद्ध में माहिर फौजी थे. वह कश्मीर में सेवाएं देने के अलावा, चाइना बॉर्डर पर भी तैनात रह चुके थे. वह पैरा कमांडो थे और कॉम्बैट फ्री फॉल में माहिर थे. पैरा कमांडो विवेक कांगड़ा जिले के जयसिंहपुर उपमंडल के कोसरी इलाके के अपर ठेहडू गांव से थे. लांस नायक विवेक कुमार 2012 में जैक राइफल में भर्ती हुए थे. बाद में वह पैरा कमांडो के रूप में सेवाएं दे रहे थे. साल 2020 में विवेक की शादी हुई थी.

Tags: Bipin Rawat Helicopter Crash, Bipin singh, Cds bipin rawat death, Heroes of the Indian Army, Himachal pradesh, Kangra News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर