• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • Kangra Cloud Burst: हिमाचली लोक कलाकार थी ममता, हादसे में पूरा परिवार खत्म

Kangra Cloud Burst: हिमाचली लोक कलाकार थी ममता, हादसे में पूरा परिवार खत्म

कांगड़ा के बोह में हुए लैंडस्लाइड में ममता और उसका पूरा परिवार खत्म हो गया है. (FILE PHOTO)

कांगड़ा के बोह में हुए लैंडस्लाइड में ममता और उसका पूरा परिवार खत्म हो गया है. (FILE PHOTO)

Cloud Burst in Kangra: बारिश के बाद आई बाढ़ से कांगड़ा में अब तक दस मौतें हुई हैं. इनमें आठ अकेले बोह में हुई हैं. वहीं, नगरोटा बंगवा में 11 साल की नेहा भी पानी में बह गई थी. इसके अलावा, पंजाब के सूफी गायक मनजीत (Punjabi Singer Manmeet Singh) का शव करेरी लेक से एक किमी दूर नाले में मिला है.

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले (Kangra) में शाहपुर के बोह में हुए जल प्रलय (Cloud Burst in Kangra) ने कई परिवारों को जख्म दिए हैं. लेकिन भीमसेन का पूरा परिवार इस हादसे की भेंट चढ़ गया. भीमसेन की पत्नी, बेटी, दोनों बेटे और वह खुद काल का ग्रास बन गए हैं. सबसे ऊपर उनका घर और पूरा परिवार सबसे पहले मलबे की चपेट में आया और मौत का शिकार हो गया. परिवार के पांचों जनों के शव बरामद हो गए हैं और अंतिम संस्कार (Cremations) कर दिया गया है.

भीमसेन की बेटी ममता (21) भी हादसे की शिकार हुई है और वह हिमाचल लोकगीतों में अभिनय करती रही हैं. अब उसे फोटो और कुछ वीडियो वायरल हो रहे हैं. मंगलवार देर शाम मलबे से एनडीआरएफ की टीम ने ममता का शव बरामद किया. ममता अब तक कई पहाड़ी गानों में लीड रोल अदा कर चुकी थी.

परिवार में केवल बहन बची

इस परिवार में अब सिर्फ ममता की बहन बची है, वो हादसे के दौरान अपने ससुराल में थी. इस वजह से उसकी जान बच गई. हादसे से कुछ वक्त पहले ही ममता ने अपने इंस्टाग्राम पर फोटो अपलोड की थी. ममता का घर सबसे ऊपर था. बारिश के चलते सभी लोग घर पर ही थे. कुछ सेकेंड में आए मलबे ने पूरे घर को ही दफन कर दिया. घर का नामोनिशान तक नहीं है, चारों तरफ सिर्फ और सिर्फ मलबा ही दिख रहा था. ममता के पिता की वजह से बाकी लोगों की जान बच सकी और उन्होंने ही गांव वालों को आगाह किया था.

अब केवल दो लोग लापता

12 जुलाई को हुई भारी बारिश के कारण आई बाढ़ में बोह की रुलेहड़ पंचायत में चार परिवारों के 10 लोग लापता थे. मंगलवार को मलबे से निकाले भाई-बहन ममता और कार्तिक का बुधवार को अंतिम संस्कार किया गया गया है. अब तक मलबे से मस्तो देवी (40), शकुंतला देवी (60), ममता (21), कार्तिक (16), शिव प्रसाद (30), कांचना देवी (45) और भीमसेन (45) और शबनम (18 माह) का शव बरामद किया गया है. कुल 5 पांच लोग रेस्क्यू किए गए हैं. आठ शव मिले हैं और दो लोगों की तलाश है. मंगलवार को पांच और बुधवार को तीन शव निकाले गए हैं. गुरुवार को 75 साल के शख्स सुभाष चंद का शव मिला है. 1 बजकर 40 मिनट पर उनका शव मलबे से निकाला गया है. एनडीआरएफ का तलाशी अभियान चौथे दिन भी जारी है.

cloud burst Kangra, Himachal News
ममता का परिवार. (फाइल फोटो)


कांगड़ा में अब तक 11 मौतें

बारिश के बाद आई बाढ़ से कांगड़ा में अब तक 11 मौतें हुई हैं. इनमें अकेले 9 मौतें बोह में हुई हैं. वहीं, नगरोटा बंगवा में 11 साल की नेहा भी पानी में बह गई थी. इसके अलावा, पंजाब के सूफी गायक मनमीत का शव करेरी लेक से एक किमी दूर नाले में मिला है. वह नाले को पार करते हुए बह गए थे. वहीं, मांझी खड्डे में बहा एक शख्स लापता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज