COVID-19: CM करें तो कुछ नहीं, आम जनता नियम तोड़े तो जुर्माना: जीएस बाली
Dharamsala News in Hindi

COVID-19: CM करें तो कुछ नहीं, आम जनता नियम तोड़े तो जुर्माना: जीएस बाली
कांगड़ा से कांग्रेस नेता जीएस बाली.

बाली ने कहा कि धर्मशाला को राजधानी तो बना दिया लेकिन यहां कोई भी सेक्रेटरी तक नहीं बिठाया गया. बाली ने पूछा कि पिछले तीन वर्षों में बीजेपी सरकार ने क्या किया और क्या लेकर आए?

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 11, 2020, 6:29 PM IST
  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के पूर्व परिवहन मंत्री जीएस बाली (GS Bali) ने जयराम सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि हिमाचल में लगातार बढ़ रहे कोरोना (Corona Virus) के आंकड़े चिंता का विषय हैं, लेकिन कांगड़ा दौरे के दौरान सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) जहां भी गए वहां पर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गई. जब भी कोई वीआईपी (VIP) जनता के बीच जाता है, तो इस बात की उन्हें परवाह करनी होती है
कि लापरवाही के क्या परिणाम हो सकते हैं.

क्या बोले जीएस बाली
बाली ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि उन्होंने अपने जन्मदिन पर होने वाले बाल मेले को स्थगित किया है. क्योंकि इस मेले में भी हजारों लोग आते हैं. यह भी एक तरह से उदाहरण है. सीएम जयराम ठाकुर को कांगड़ा आना था तो धर्मशाला स्थित सचिवालय में बैठ कर काम करते. सड़कों पर बेंड बाजा बजवाने की क्या जरूरत थी. शक्ति प्रदर्शन के मौके पक्ष और विपक्ष के सामने बहुत आएंगे, लेकिन जब कोरोना नहीं होगा, उस समय शक्ति प्रदर्शन करना सही है.
सीएम टास्क फोर्स बने, ताकि लोगों को राहत मिल सके
बाली ने कहा कि धर्मशाला को राजधानी तो बना दिया लेकिन यहां कोई भी सेक्रेटरी तक नहीं बिठाया गया. बाली ने पूछा कि पिछले तीन वर्षों में बीजेपी सरकार ने क्या किया और क्या लेकर आए? इस समय लोगों के सामने वित्तीय संकट का सबसे बड़ा मुद्दा है कर्मियों को समय पर ना तो वेतन मिल रहा है और ना ही पेंशनधारियों को पेंशन. प्रदेश में कानून-व्यवस्था की हालत भी खराब है. मामले सामने आते ही दब जाते हैं. सीएम टास्क फोर्स बनानी चाहिए, ताकि लोगों को राहत मिल सके.



सरकार बताए कितना रोजगार दिया
बेरोजगारी के मुद्दे पर बाली ने कहा कि बेरोजगारी पहले भी थी और कोरोना ने इसे और भी बढ़ा दिया है. यह भी सवाल है कि बीजेपी सरकार ने आज तक कितनों को रोजगार दिया यह बताना चाहिए. सीएम जयराम का कहना है कि कोरोना से हिमाचल को 30 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है, लेकिन जनता को बताए कि कहां और किस सेक्टर में नुकसान हुआ है. बसों का किराया बढ़ा कर जनता पर बोझ डाल दिया है. ऐसे में लोग बस छोड़ अपने वाहनों पर यात्रा कर रहे हैं. क्योंकि किराए के हिसाब से बस यात्रा महंगी हो गई है. यह सब ट्रांसपोर्टरों को लाभ देने के लिए किया गया है. छोटी बच्चियों के खिलाफ आपराधिक मामले बढ़ रहे हैं, उन पर तुरंत अंकुश लगना बहुत जरूरी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज