अपना शहर चुनें

States

VIDEO: जब धर्मशाला में भांजे के चुनावी प्रचार में जमकर थिरके कांग्रेस के पूर्व मंत्री भरमौरी

धर्मशाला में डांस करते हुए कांग्रेस के पूर्व मंत्री भरमौरी.
धर्मशाला में डांस करते हुए कांग्रेस के पूर्व मंत्री भरमौरी.

Himachal By-election: चंबा के भरमौर के रहने वाले ठाकुर सिंह भरमौरी (Thakur Singh Bharmouri) पूर्व कांग्रेस सरकार में वन मंत्री थे. वह अक्सर विवाह (Marriage) और अन्य आयोजनों में झूमने से नहीं चुकते हैं.

  • Share this:
धर्मशाला. हमारे देश में चुनाव प्रचार (Election Campaing) के दौरान सियासी नेताओं और वर्करों के अलग-अलग रंग रूप नजर आते हैं. हिमाचल उपचुनाव (Himachal Assembly By-election) के लिए धर्मशाला में कांग्रेस के नेता और वर्कर अलग अंदाज में नजर आएं. यहां प्रचार के दौरान कांग्रेस के पूर्व मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी (Thakur Singh Bharmouri) और अन्य नेता जमकर थिरके.

दरअसल, कांग्रेस (Congress) के उम्मीदवार विजय इंद्र सिंह कर्ण पूर्व कांग्रेस मंत्री भरमौरी के भांजे हैं और इस दौरान भरमौरी ने ढोल की थाप पर डांस किया. इसका वीडियो (Video) जमकर वायरल हो रहा है. बता दें कि चंबा के भरमौर के रहने वाले भरमौरी पूर्व कांग्रेस सरकार में वन मंत्री थे. वह अक्सर विवाह और अन्य आयोजनों में झूमने से नहीं चुकते हैं.





धर्मशाला में प्रचार कर रहे है भरमौरी
धर्मशाला उपचुनाव (Dharamshala By Election) में कांग्रेस ने अपने कई नेता प्रचार के लिए उतारे हैं. प्रत्याशी विजय इंद्र कर्ण के लिए नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री की अगुवाई में ठाकुर सिंह भरमौरी, चौधरी चंद्र कुमार, विधायक पवन काजल, पूर्व विधायक केवल सिंह पठानिया जैसे नेता वोट मांग रहे हैं. ये नेता धर्मशाला के बाजार में ढोल नगाड़ों की थाप पर थिरके. प्रत्याशी विजय इंद्र कर्ण के मामा पूर्व मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने कोतवाली बाजार के चौराहे पर गद्दी डांस किया और गाना गाया.

धर्मशाला में युवाओं में जंग
धर्मशाला में कांग्रेस के विजय इंद्र कर्ण (Vijay Inder Karan) और भाजपा के विशाल नैहरिया के बीच मुकाबला है. दोनों युवा और नए चहरे हैं. भाजपा (Bjp) की इस परांपरागत सीट पर किशन कपूर विधायक थे, लेकिन लोकसभा चुनाव में जीत के बाद यह सीट खाली हो गई थी. ऐसे में भाजपा और कांग्रेस दोनों इस सीट पर जीत के लिए प्रयासरत हैं. फिलहाल, उपचुनाव के लिए सात प्रत्याशी मैदान में हैं. 2012 में हालांकि, कांग्रेस के सुधीर शर्मा यहां से जीते थे, लेकिन इस बार उन्होंने इस सीट से चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया.

ये भी पढ़ें: हिमाचल उपचुनाव: कौन हैं दयाल प्यारी, जिनके नाम से BJP में मचा है घमासान

हिमाचल उपचुनाव: BJP के लिए राहत, बागी सिक्टा ने वापस लिया नामांकन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज