अपना शहर चुनें

States

Himachal Panchayat Election: प्रचार किए बिना प्रधान का चुनाव जीतीं कोरोना संक्रमित सुमन

देश में पांच दिनों से कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम चालू है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
देश में पांच दिनों से कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम चालू है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Himachal News: धर्मशाला ब्लॉक की शीला-भटेहड़ पंचायत में प्रधान पद की उम्मीदवार सुमन कोरोना संक्रमित थीं, इसलिए प्रचार करने नहीं निकल सकीं, उनके लिए पति ने वोट मांगे. वो प्रधान बनने वाली इकलौती ऐसी महिला हैं, जो कोरोना पॉजिटिव है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 21, 2021, 10:34 AM IST
  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश पंचायत चुनाव में अनोखे नजारे देखने को मिल रहे हैं. कई प्रत्याशी जहां दमदार प्रचार के बाद भी चुनाव हार गए, वहीं राज्य के कांगड़ा जिले की एक पंचायत में अपनी लोकप्रियता के बूते प्रचार किए बिना कोरोना पॉजिटिव महिला ने प्रधान पद का चुनाव जीत लिया. यह महिला है धर्मशाला ब्लाक की शीला-भटेहड़ पंचायत की सुमन बाला, जो कोरोना संक्रमित होने के कारण प्रचार के लिए नहीं निकल सकी थीं. चुनाव नतीजा सुमन की जीत की शक्ल में सामने आया, तो सब हैरान रह गए.

हिमाचल में दूसरे चरण के पंचायत चुनाव के लिए 19 जनवरी को वोट डाले गए थे. शीला-पटेहड़ पंचायत में सुमन कोरोना संक्रमित होने की वजह से प्रचार के लिए नहीं निकल सकीं, तो उनके पति ने लोगों से वोट मांगे. इस पंचायत में पड़े 873 वोटों में से सुमन बाला ने 347 वोट पाकर जीत हासिल की. उन्होंने अपने निकटतम प्रत्याशी को 92 मतों से हराया. सुमन ने जीत के बाद पंचायत की जनता और पति का आभार व्यक्त किया.

फोन और सोशल मीडिया का सहारा लिया
प्रधान पद पर जीत हासिल करने वाली सुमन बाला ने अपने स्तर पर भी मोबाइल फोन और सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचार किया था. वह फोन पर ही लोगों व ग्रामीणों से बात करती थीं. दरअसल, चुनाव प्रचार के लिए सुमन ने कोरोना टेस्ट करवाया था, जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. उसके पति, दोस्त, रिश्तेदार सब प्रचार के लिए साथ आए और सुमन चुनाव जीत कर प्रधान बन गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज