HP Board पर सवाल: मंत्री के लिए 18 लाख की SUV कार और छात्रों को 20% फीस बढ़ोतरी

हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड. (सांकेतिक तस्वीर.)
हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड. (सांकेतिक तस्वीर.)

Examination Fees hike in Himachal Pradesh: हाल ही में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर के लिए शिक्षा विभाग ने 18 लाख रुपये की एसयूवी कार खरीदी थी. इस पर खूब सवाल उठे थे कि कोरोना काल में सरकार फिजूलर्ची कर रही है, जबकि आम आदमी को कोई राहत नहीं दी जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2020, 10:26 AM IST
  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड (Himachal Pradesh Education board) ने प्रदेश के लाखों छात्रों को कोरोना संकट के बीच झटका दिया है. मार्च, 2021 में होने वाली बोर्ड परीक्षा में शिक्षा बोर्ड परीक्षार्थियों से 10 फीसदी अधिक परीक्षा शुल्क (Examination Fee) वसूल किया जाएगा. यह फैसला मार्च से पहले हुई बीओडी की बैठक में लिया गया था, जिसे अब लागू किया गया है.

मार्च में लिया था फैसला अब लागू किया
मार्च में बीओडी की बैठक में शुल्क बढ़ाने का फैसला लिया था, लेकिन कोरोना के चलते इसे उस समय न बढ़ाकर अब बढ़ाया गया है. हालांकि, फैसले को लेकर सवाल उठने लगे हैं. क्योंकि हाल ही में शिक्षा विभाग ने अपने मंत्री के लिए 18 लाख की कार खरीदी थी. ऐसे में फीस वृद्धि को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं

क्या हैे नई दरें
जानकारी के अनुसार, अब दसवीं के छात्रों को 600 रुपये परीक्षा शुल्क देना होगा. इसस पहले 500 रुपये लिए जाते थे. 12वीं के छात्रों को अब 700 रुपये के बजाय 850 रुपये देन होंगे. डीएलएड के नियमित अभ्यर्थियों को भी 650 रुपये के बजाय अब 800, जबकि प्राइवेट छात्रों को 900 रुपये के बदले अब 1100 रुपये परीक्षा शुल्क देना होगा.



क्यों उठ रहे सवाल
हाल ही में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर के लिए शिक्षा विभाग ने 18 लाख रुपये की एसयूवी कार खरीदी थी. इस पर खूब सवाल उठे थे कि कोरोना काल में सरकार फिजूलर्ची कर रही है, जबकि आम आदमी को कोई राहत नहीं दी जा रही है. हालांकि, शिक्षा मंत्र गोविंद सिंह ठाकुर ने तर्क दिया था कि उनकी गाड़ी पुरानी हो गई थी, इसलिए गाड़ी खरीदी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज