Home /News /himachal-pradesh /

farmers in himachal kangra farmers sell wheat in 9 mandis now dont need go to punjab hpvk

कांगड़ा में किसानों की बल्ले-बल्ले, गेहूं की फसल लेकर अब नहीं जाना पड़ेगा पंजाब

एफसीआई के तीन गेहूं खरीद केंद्रों पर 76 हजार 95 क्विंटल गेहूं की खरीद की.

एफसीआई के तीन गेहूं खरीद केंद्रों पर 76 हजार 95 क्विंटल गेहूं की खरीद की.

डॉक्टर निपुण जिंदल ने कहा कि कांगड़ा जिला में किसानों की गेहूं की खरीद के लिए तीन मंडियां स्थापित की गई हैं, ताकि किसानों को किसी भी तरह की दिक्कत ना हो. उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त जिला कांगड़ा में एफसीआई से मान्यता प्राप्त 9 प्राइवेट मंडियों में भी गेहूं की खरीद की जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

धर्मशाला.  हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा में 15 अप्रैल से एफसीआई द्वारा शुरू की गई गेहूं खरीद केंद्र में अभी तक 20 हजार मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद की जा चुकी है, जिसकी एवज में अभी तक किसानों को 1 करोड़ 55 लाख से अधिक का भुगतान किया जा चुका है.

डीसी कांगड़ा डॉक्टर निपुण जिंदल ने कहा कि एफसीआई के तीन गेहूं खरीद केंद्रों पर 76 हजार 95 क्विंटल गेहूं की खरीद की गई है,  जिसमें 248 किसानों ने अपनी गेहूं बेची है. कांगड़ा जिला में 550 किसानों ने गेहूं की फसल बेचने के लिए सही फसल सही दाम पोर्टल का लाभ भी उठाया है. उन्होंने कहा कि इस पोर्टल के जरिये किसान सरकार द्वारा निर्धारित दामों पर अपनी फसल बेच सकते हैं. सरकार द्वारा गेहूं खरीद का न्यूनतम मूल्य 2015 रुपये प्रति क्विटंल निर्धारित किया है.

तीन मंडिया स्थापित की हैं- डीसी

डॉक्टर निपुण जिंदल ने कहा कि कांगड़ा जिला में किसानों की गेहूं की खरीद के लिए तीन मंडियां स्थापित की गई हैं, ताकि किसानों को किसी भी तरह की दिक्कत ना हो. उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त जिला कांगड़ा में एफसीआई से मान्यता प्राप्त 9 प्राइवेट मंडियों में भी गेहूं की खरीद की जा रही है, जिसमें अब तक 295 किसानों ने लगभग 12 हजार 146 मीट्रिक टन गेंहू बेचा है. जो कि अपने आप में ही रिकॉर्ड नजर आ रहा है. काबिलेगौर है कि पहले कांगड़ा के किसानों को अपनी फसल की पैदावार के बाद पंजाब की मंडियों पर निर्भर रहना पड़ता था, मगर, अब उन्हें सरकार प्रशासन की ओर से कांगड़ा के ही अलग अलग हिस्सों में अपनी गेहूं को बेचने के लिये मंडियों का प्रावधान कर दिया है, जिसके चलते अब किसानों को पंजाब में जाकर आढ़तियों के साथ माथापच्ची नहीं करनी पड़ती और फसल भी आसानी से बिक जाती है.

Tags: Farmers, Kangra News

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर