लाइव टीवी

धूमधाम से मनाया जा रहा है गुरु नानक देव का 550वां प्रकाशोत्सव

Bichitar Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 9, 2019, 12:36 PM IST
धूमधाम से मनाया जा रहा है गुरु नानक देव का 550वां प्रकाशोत्सव
प्रभात फेरियां निकाल कर गुरुनानक देवजी महाराज के पवित्र संदेश नगर निवासियों तक पहुंचाए गए.

गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाशोत्सव (Prakashotsav) देश-विदेश में धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है. कांगड़ा (Kangra) में सिख संगत ने प्रभात फेरियां निकालकर समाज में शांति और आपसी भाईचारा कायम करने की प्रार्थना की.

  • Share this:
धर्मशाला. गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाशोत्सव (Prakashotsav) देश-विदेश में धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है. कांगड़ा (Kangra) में सिख संगत ने प्रभात फेरियां निकालकर समाज में शांति और आपसी भाईचारा कायम करने की प्रार्थना की. सिखों के इतिहास में पाकिस्तान (Pakistan) की भूमि का बड़ा महत्व है. कांगड़ा में भी पाकिस्तान से लाए गए तत्कालीन गुरुग्रंथ साहिब (Guru Granth Sahib) मिलते हैं, जो कि बहुत ही दुर्लभ हैं. आज उन्हीं दुर्लभ श्री गुरु ग्रन्थ साहिब को धर्मशाला (Dharamshala) के गुरुद्वारे में दर्शन के लिए सजाया गया है. साथ ही इसका ग्रन्थियों द्वारा पाठ कर तमाम लोगों को निहाल किया गया.

आज से 300 साल पहले लाहौर (Lahore) से धर्मशाला लाए गए गुरु ग्रंथ साहिब के दर्शन के लिए लोग न केवल देशभर से बल्कि विदेशों से भी पहुंचते हैं.

श्री गुरु ग्रन्थ साहिब को धर्मशाला के गुरुद्वारे में दर्शन के लिए सजाया गया है.


1 से 9 नवंबर तक प्रभात फेरियां निकाली गई

धर्मशाला में सिख संगत के तेजेंदर सिंह ने कहा कि आज प्रभात फेरियां निकाली गईं और गुरुनानक देवजी महाराज के पवित्र संदेश नगर निवासियों तक पहुंचाए गए. उन्होंने कहा कि धर्मशाला गुरुद्वारा सिख सभा द्वारा 1 नवंबर से लेकर आज 9 नवंबर तक प्रभात फेरियां निकाली गईं. इस दौरान लोगों का जन समूह इकट्ठा होता रहा. उन्होंने कहा कि रास्ते में आदर सत्कार भाव से लोगों ने संगतों की बहुत सेवा की. शबद कीर्तन और भजन बंदगी का नगर निवासियों ने बहुत आनंद उठाया.

ये भी पढ़ें - ग्लोबल इन्वेस्टर मीट:सीएम ने कहा-93 हजार करोड़ रुपये की इन्वेस्टमेंट की उम्मीद

ये भी पढ़ें - इन्वेस्टर्स मीट: साल 1997 में ज्वालामुखी में 7 दिन के लिए रुके थे पीएम मोदी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धर्मशाला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 12:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...