हिमाचल की बेटियों को मिलेगी NEET, IIT-JEE की फ्री कोचिंग, पास करना होगा ये टेस्ट, ऐसे करें अप्लाई
Dharamsala News in Hindi

हिमाचल की बेटियों को मिलेगी NEET, IIT-JEE की फ्री कोचिंग, पास करना होगा ये टेस्ट, ऐसे करें अप्लाई
बेटियों को आगे बढ़ाने हिमाचल सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. (Demo Pic)

दो अगस्त 2020 को ऑनलाइन स्क्रीनिंग टेस्ट (Online Screening Test) आयोजित किया जाएगा जिसमें 26 मेधावी छात्राओं को कोचिंग के लिए सिलेक्ट किया जाएगा. आवेदन संबंधित जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number) 8774455000, 8264340139 पर संपर्क कर सकते हैं.

  • Share this:
धर्मशाला. होनहार बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए हिमाचल सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ अभियान के तहत मेधावी बेटियों को अब जिला प्रशासन की ओर से आईआईटी (IIT), जेईई (JEET) और नीट प्रतियोगी परीक्षाओं (NEET) के दो साल की निशुल्क कोचिंग सुविधा प्रदान की जाएगी. एडीसी राघव शर्मा ने बताया कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के लिए बाकायदा एक समीक्षा बैठक भी की गई है. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ अभियान के तहत जिजिविषा कार्यक्रम आरंभ किया है. उसी के तहत बेटियों को निशुल्क कोचिंग (Free Coaching) देने का प्रावधान भी किया गया है. इसके लिए दो अगस्त 2020 को ऑनलाइन स्क्रीनिंग टेस्ट आयोजित किया जाएगा जिसमें 26 मेधावी छात्राओं को कोचिंग के लिए सिलेक्ट किया जाएगा.


राघव शर्मा ने कहा कि दस जमा एक विज्ञान संकाय में सरकारी सीनियर सेकेंडरी में अध्ययनरत छात्राएं ऑनलाइन स्क्रीनिंग के लिए आवेदन कर सकती हैं. इसके लिए संबंधित स्कूल प्रबंधन या उपनिदेशक शिक्षा विभाग के कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है. इसके साथ ही ऑनलाइन स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए आवेदन संबंधित जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर 8774455000, 8264340139 पर संपर्क कर सकते हैं.  अतिरिक्त उपायुक्त राघव शर्मा ने कहा कि कांगड़ा जिला में लिंगानुपात में सुधार के लिए आरंभ किए गए जिजिविषा कार्यक्रम का भी सुचारू कार्यान्वयन सुनिश्चित किया जाए. इसमें सभी पंचायतों में हमारे गांव की "बेटी हमारी शान" के तहत सराहनीय उपलब्धि हासिल करने वाली बेटियों के फ्लेक्स पंचायतों में स्थापित किए जाएं,  इसके साथ ही खंड स्तर पर बेहतरीन कार्य करने वाली बेटियों को ब्लॉक एंबेसडर भी बनाया जाए  ताकि समाज को प्रेरणा मिल सके.


ये भी पढ़ें: राम मंदिर भूमि पूजन पर आतंकी साया, अयोध्या में हाई अलर्ट, पुलिस ने बढ़ाई चौकसी 


बेटा-बेटी एक समान का संदेश




एडीसी राघव शर्मा ने कहा कि आंगनबाड़ी वर्कर्स और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के माध्यम से लोगों को बेटा-बेटी एक समान का संदेश लोगों तक पहुंचाने के लिए भी कार्य करना चाहिए. राघव ने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या पर पूर्णत अंकुश लगाने के लिए भी सख्त कदम उठाए जाएंगे और कन्या भ्रूण हत्या के बारे में जानकारी देने वाले नागरिकों को जिला प्रशासन की ओर से 20 हजार की नगद राशि का इनाम दिया जाएगा. सूचना देने वालों की पहचान पूर्ण रूप से गुप्त रखी जाएगी. इस बारे में सीएमओ कांगड़ा को सूचना दी जा सकती है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading