• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल के पूर्व BJP सीएम शांता कुमार बोले-कांग्रेस ना छोड़ें कैप्टन अमरेंद्र सिंह

हिमाचल के पूर्व BJP सीएम शांता कुमार बोले-कांग्रेस ना छोड़ें कैप्टन अमरेंद्र सिंह

हिमाचल के पूर्व सीएम शांता कुमार और कैप्टन अमरेंद्र सिंह.

हिमाचल के पूर्व सीएम शांता कुमार और कैप्टन अमरेंद्र सिंह.

Shanta kumar Statement on Punjab congress Crisis: शांता कुमार ने कैप्टन अमरिंदर से आग्रह किया है वे कांग्रेस न छोड़ें. गुलाम नवी आज़ाद, कपिल सिब्बल और थरूर जैसे जी 23 के नेताओं से मिलकर कांग्रेस पार्टी में आज़ादी की लड़ाई लड़ें और एक परिवार की गुलामी से बाहर निकले.

  • Share this:

    पालमपुर (कांगड़ा). हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता शान्ता कुमार ने कहा कि भारत की सबसे पुरानी गांधी, पटेल और नेहरू की पार्टी भारत को आज़ादी दिलवाने वाली कांग्रेस पूरे देश में एक मज़ाक बन गई है. हैरानी यह है कि उसे आत्महत्या भी शालीनता से नहीं करने आ रही है. उन्होंने पंजाब के पूर्व कांग्रेस सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह से कांग्रेस ना छोड़ने की अपील भी की है.

    उन्होंने कहा कांग्रेस देश में भाजपा के बाद एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है. बाकी सभी एक प्रदेश या एक नेता परिवार की पार्टियां हैं. यदि कांग्रेस समाप्त हो जाए तो भारत का लोकतंत्र राष्ट्रीय विपक्ष विहीन हो जाएगा. लोकतंत्र का रथ दो पहियों पर चलता है. एक सत्ताधारी पार्टी और दूसरा विपक्ष.

    मोदी की तारीफ में पढ़े कसीदे

    शान्ता कुमार ने कहा कि आज सौभाग्य से विश्व में सर्वाधिक लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी सफल नेतृत्व कर रहे है, परन्तु लोकतंत्र के लिए एक स्वस्थ और सशक्त विपक्ष का होना भी बहुत आवश्यक है. अटल जी कहा करते थे कि हमें हमेशा पार्टियों की छोटी दीवारों में ही नहीं रहना चाहिए, इसलिए मैं यह बात राष्ट्र के मन्दिर में खड़ा होकर कह रहा हूँ. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के महारोग का एक ही इलाज है कि कांग्रेस गांधी परिवार की गुलामी से बाहर निकले. आज भी कांग्रेस में एक से एक बढ़ कर कैप्टन अमरिंदर और थरूर तथा जी 23 के देशभक्त और अनुभवी नेता हैं. शान्ता कुमार ने कहा कि जिस पार्टी ने पूरे देश को आजाद करवाया, वह एक परिवार की गुलामी में घुट-घुट कर मर रही है और इतिहास आंसू बहाएगा.

    कांग्रेस नेताओं से की अपील
    शांता कुमार ने कैप्टन अमरिंदर से आग्रह किया है वे कांग्रेस न छोड़ें. गुलाम नवी आज़ाद, कपिल सिब्बल और थरूर जैसे जी 23 के नेताओं से मिलकर कांग्रेस पार्टी में आज़ादी की लड़ाई लड़ें और एक परिवार की गुलामी से बाहर निकले. गांधी परिवार के इलावा कांग्रेस के सभी बड़े नेता एक साथ इक्कठे बैठें. कांग्रेस के पुराने इतिहास को याद करे और फिर किसी एक नेता को अध्यक्ष बना कर आगे बढें. उन्हें विश्वास है कि भारत को एक सशक्त और राष्ट्रीय विपक्ष मिल सकता है. यह देश की बहुत बड़ी सेवा होगी. कांग्रेस की वर्तमान स्थिति से मुझे कोई प्रसन्नता नहीं होती, बल्कि चिन्ता होती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज