एलोपैथी विवाद: बाबा रामदेव के पक्ष में BJP नेता शांता कुमार, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को किया फोन

बयान पर उपजे विवाद को सुलझाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने पहल की.

बयान पर उपजे विवाद को सुलझाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने पहल की.

Shanta Kumar Statement on Baba Ramdev: शांता कुमार लगातार आए दिन किसी ना किसी मुद्दे पर बयान देते रहते हैं. इससे पहले वह कोरोना की दूसरी लेकर को लेकर भी सरकार पर सवाल उठा चुके हैं. उन्होंने कोरोना की दूसरी लहर के लिए सरकार और चुनावों को जिम्मेदार ठहराया था.

  • Share this:

धर्मशाला. आयुर्वेद एवं एलोपैथी चिकित्सा पद्धति पर बाबा रामदेव (Baba Ramdev) की ओर से दिए गए बयान पर उपजे विवाद को सुलझाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने पहल की है. उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन से फोन पर बातचीत की. शांता कुमार ने स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) से कहा कि रामदेव ने योग को घर-घर तक पहुंचाया है. साथ ही महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के सपने स्वदेशी को रामदेव ने साकार करके दिखाया है. उन्होंने देश में लाखों लोगों को रोजगार उपलब्ध भी करवाया है. वह भारत में स्वदेशी क्रांति के अग्रदूत हैं. रामदेव के प्रति मेरी इतनी श्रद्धा है कि कभी-कभी फोन पर उन्हें प्रणाम कर आशीर्वाद लेता हूं.

और क्या बोले शांता

शांता ने कहा कि एलोपैथी पद्धति पर उनका विवाद दुर्भाग्यपूर्ण है. इससे उनकी छवि पर आंच आ रही है. इस कारण लोग व्यथित हैं. उन्होंने कहा कि आयुर्वेद व एलोपैथी पद्धति मानवता की सेवा कर रही है. विश्वभर के डाक्टरों और विज्ञानियों की तपस्या से एलोपैथी विकसित पद्धति बन गई है. रामदेव ने बयान वापस ले लिया है, लेकिन इसी के साथ एक विवाद और शुरू कर दिया है, जो अदालतों में जाने लगा है. ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.

शांता लगातार सुर्खियों में बने हुए
शांता कुमार लगातार आए दिन किसी ना किसी मुद्दे पर बयान देते रहते हैं. इससे पहले वह कोरोना की दूसरी लेकर को लेकर भी सरकार पर सवाल उठा चुके हैं. उन्होंने कोरोना की दूसरी लहर के लिए सरकार और चुनावों को जिम्मेदार ठहराया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज