Home /News /himachal-pradesh /

VIDEO: इस्तीफे के बाद बोले कृपाल सिंह परमार-4 साल से जलालत सह रहा था, लेकिन BJP नहीं छोड़ूंगा

VIDEO: इस्तीफे के बाद बोले कृपाल सिंह परमार-4 साल से जलालत सह रहा था, लेकिन BJP नहीं छोड़ूंगा

हिमाचल भाजपा के उपाध्यक्ष कृपाल सिंह परमार.

हिमाचल भाजपा के उपाध्यक्ष कृपाल सिंह परमार.

Himachal Bjp Vice President Resigns: सात अक्टूर को टिकट कटने के बाद कृपाल सिंह परमार ने फेसबुक पर लिखा,“ मुझे जिंदगी का इतना तुजुर्बा तो नहीं, पर सुना है सादगी और ईमारदार में अपने ही लोग जीने नहीं देते.” कृपाल परमार 2000 से 2006 से भाजपा सांसद रह चुके हैं और मौजूदा समय में भाजपा उपाध्यक्ष थे.तेहपुर उपचुनाव की शुरुआत में कृपाल टिकट के दावेदार थे, लेकिन भाजपा ने बलदेव ठाकुर को टिकट दिया गया.

अधिक पढ़ें ...

    धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष पद (Himachal Bjp vice President) से इस्तीफा देने के बाद पूर्व सांसद कृपाल परमार ने कहा कि आत्मसम्मान को ठेस पहुंचने के बाद उन्होंने इस पद से इस्तीफा दिया है. हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया है कि वह किसी भी सूरत में पार्टी नही छोड़ेंगे, बल्कि पार्टी में रहकर उन लोगों को बेनकाब करेंगे जो पार्टी के खिलाफ कार्य करते आए हैं.

    कृपाल परमार ने कहा कि पिछले 4 वर्षों से सुनियोजित ढंग से वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने की कोशिश की जा रही है. इस मामले में सरकार और संगठन दोनों को सुबूत सहित शिकायत दी गई, लेकिन उन पर कारवाई करने की बजाय उन्हें और मजबूत कर दिया गया.

    खून से सींची है पार्टी

    उन्होंने कहा कि फतेहपुर में जो कुछ भी हुआ, वह उन्होंने एक कर्मठ कार्यकर्ता के तौर पर निभाया. फिर चाहे वह टिकट देने का मामला हो या चुनाव लड़ने का मसला हो. उन्होंने कहा कि सब सहने के बाद भी उन्हें जलील करने के लिए तरह तरह के हथकण्डे अपनाए जा रहे हैं. आत्मसम्मान की वजह से प्रदेश उपाध्यक्ष के पद को छोड़ने का फैसला किया है.उन्होंने कहा कि पार्टी को उन्होंने खून से सींचा है और अब पार्टी में रहकर उन लोगों को बेनकाब किया जाएगा, जो पार्टी विरोधी काम करते आये हैं.

    टिकट कट गया था

    फतेहपुर से कृपाल परमार (Kripal Singh Parmar)  उपचुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन पार्टी ने उन्हें यहां से टिकट नहीं दिया था. सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) के मनाने पर कृपाल परमार चुनाव ना लड़ने के लिए मान तो गए थे. लेकिन पार्टी से नाराज चल रहे थे.  भाजपा कार्यसमिति की बैठक शिमला में मंगलवार को होनी थी. ऐसे में भाजपा को बड़ा झटका लगा है.  दो दिन पहले ही परमार ने फेसबुक पर अपना दर्द बयां करते हुए लिखा था, “मेरी आवाज किसी शोर में गर डूब गई, मेरी खामोशी बहुत दूर तक सुनाई देगी.”

    कृपाल को मनाया तो लेकिन वह नाखुश थे

    दरअसल, फतेहपुर उपचुनाव की शुरुआत में कृपाल टिकट के दावेदार थे, लेकिन भाजपा ने बलदेव ठाकुर को टिकट दिया गया. बलदेव ने 2017 का चुनाव आजाद लड़ा था और इसी वजह से कृपाल परमार चुनाव हार गए थे. कृपाल परमार को सीएम जयराम ठाकुर ने मना तो लिया है, लेकिन वह नाखुश थे. इससे पहले, सात अक्टूर को टिकट कटने के बाद उन्होंने फेसबुक पर लिखा,“ मुझे जिंदगी का इतना तुजुर्बा तो नहीं, पर सुना है सादगी और ईमारदार में अपने ही लोग जीने नहीं देते.” कृपाल परमार 2000 से 2006 से भाजपा सांसद रह चुके हैं और मौजूदा समय में भाजपा उपाध्यक्ष थे.

    Tags: BJP, CM Jairam Thakur, Himachal Politics, Himachal pradesh

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर