हिमाचल में एकजुट होने लगे कांग्रेस नेता, कांगड़ा में BJP सरकार पर हुए हमलावर

कांगड़ा में कौल सिंह, जीएस बाली और अन्य कांग्रेस नेता.
कांगड़ा में कौल सिंह, जीएस बाली और अन्य कांग्रेस नेता.

Himachal Congress Leaders Attack on BJP: पूर्व सांसद एवं महिला कांग्रेस नेत्री विप्लव ठाकुर ने सरकार पर कई सवाल खड़े करते हुए कहा कि मोदी सरकार में महिलाओं के हित सुरक्षित नहीं है.

  • Share this:
धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश की सत्ता से बाहर चल रही कांग्रेस (Congress) अब एकजुट होने लगी है. कांगड़ा (Kangra) के धर्मशाला में बुधवार को कांग्रेस (Congress) नेता एक सभा में एकसाथ नजर आए. इस दौरान कौल सिंह ठाकुर (Kaul Singh Thakur), जीएस बाली और चंद्र कुमार सरीखे नेता एक साथ नजर आए.

क्या बोले कांग्रेस नेता

इस दौरान प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूर्व मंत्री ठाकुर कौल सिंह ने मुख्यमंत्री, जल शक्ति मंत्री व स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ सीधा मोर्चा खोलते हुए कहा कि जल शक्ति विभाग और स्वास्थ्य विभाग में कई बड़े घोटाले सामने आए हैं. उन्होंने कहा कि जल शक्ति विभाग में टेंडर होने से पहले ही पाइपों की खरीद हो जा रही है तो स्वास्थ्य महकमे में 7 रुपए के मास्क 16 रुपये में खरीदे गए हैं. उन्होंने कहा कि आक्सीमीटर खरीद में भी बड़ा घोटाला हुआ है. इसके लिए कोविड काल में हुई खरीद की जांच करवाई जाए. उन्होंने कहा कि सरकार के मंत्री भू माफिया बन गए हैं. भूमि खरीद फरोख़त बड़े स्तर पर चल रही है. खनन माफिया भी सरकार में सक्रिय है. जनता पर कई तरह के बोझ लाद दिए गये हैं.



धर्मशाला में कांग्रेस नेता.
धर्मशाला में कांग्रेस नेता.

इन्वेस्टर मीट पर सीएम को घेरा

इन्वेस्टर मीट के नाम पर जयराम सरकार ने करोड़ों रुपए खर्च कर दिये, लेकिन धरातल पर कुछ भी नजर नहीं आ रहा है. कौल सिंह ने कहा कि कांगड़ा के मंत्री अपने काम में लगे हुए हैं और जिला का विकास पूरी तरह से ठप हुआ पड़ा हुआ है. भूमि खरीद मामले की जांच करने की मुख्यमंत्री ने बात कही थी, लेकिन आज तक उस मामले में भी कुछ नहीं हो पाया. उन्होंने कहा कि बिंदल के इस्तीफे पर भी भाजपा आज तक स्थिति स्पष्ट नहीं कर पाई है. आखिर बिंदल का इस्तीफा क्यों हुआ क्या मजबूरी थी?

मोदी सरकार में मित्र देश भी बने दुश्मन

पूर्व सांसद एवं महिला कांग्रेस नेत्री विप्लव ठाकुर ने सरकार पर कई सवाल खड़े करते हुए कहा कि मोदी सरकार में महिलाओं के हित सुरक्षित नहीं है. कानून व्यवस्था की स्थिति दयनीय है. उन्होंने कहा कि हिमाचल में कांग्रेस एक है और सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर जनता के बीच में जा रही है. उन्होंने मोदी सरकार की विदेश नीति पर भी सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जो देश भारत के मित्र देश थे, अब वह भी विरोधी हो गए हैं, यह बड़ी चिंता का विषय है.

कांगड़ा पर बाली की सीएम को चुनौती

इस अवसर पर पूर्व मंत्री जीएस बाली ने कहा कि कांग्रेसी एक हैं और प्रदेश भर के तमाम बड़े नेता एक होकर अब भाजपा सरकार के खिलाफ खड़े हो गए हैं. प्रदेश का राजस्व बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. 60,000 करोड़ से अधिक का कर्जा प्रदेश पर हो चुका है. पठानकोट मंडी फोरलेन और दोनों बड़े सड़क मार्ग प्रदेश सरकार की नाकामी के चलते हाथ से चले गए हैं. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि कांगड़ा से भेदभाव हो रहा है. जीएस बाली ने कहा कि इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर उनसे खुली डिबेट कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि सीमेंट के दाम आसमान छू रहे हैं. पंजाब में सीमेंट सस्ता है और हिमाचल में महंगा बिक रहा है. इस अवसर पर पूर्व सांसद चंद्र कुमार ने भी केंद्र व प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पठानकोट जोगिंदरनगर रेल लाइन पर दोनों सरकारों ने जनता को गुमराह किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज